home page

उत्तर प्रदेश के इस शहर में एक और सड़क बनेगी फोरलेन, मंजूरी के बाद टेंडर जारी

UP News : शासन की मंजूरी के बाद लोक निर्माण विभाग ने असुरन से पिपराइच तक फोरलेन का टेंडर जारी किया है। यहां, विभाग की टीम ने जमीन अधिग्रहण के लिए निशान भी लगाने शुरू कर दिए हैं।
 | 
उत्तर प्रदेश के इस शहर में एक और सड़क बनेगी फोरलेन, मंजूरी के बाद टेंडर जारी

Saral Kisan (Uttar Pradesh Four lane) : शासन की मंजूरी के बाद लोक निर्माण विभाग ने असुरन से पिपराइच तक फोरलेन का टेंडर जारी किया है। यहां विभाग की टीम ने जमीन अधिग्रहण के लिए निशान भी लगाने शुरू कर दिए हैं। इस कार्य के लिए प्रस्तावों को स्वीकार करने की अंतिम तिथि 22 फरवरी है। असुरन से पिपराइच तक बनने वाली सड़क की चौड़ाई 28.5 मीटर होगी। Centre से एक तरफ 14.25 मीटर की चौड़ाई होगी।

फोरलेन करने के लिए 1046 करोड़ रुपये खर्च होंगे। जमीन अधिग्रहण में 585 करोड़ रुपये खर्च होंगे, जो अतिरिक्त पुल-पुलिया, सड़कों और पेड़-पोल को हटाने के लिए खर्च किए जाएंगे। इस सड़क को चौड़ा करने के लिए असुरन से पिपराइच तक व्यापारियों ने भी प्रस्ताव रखा है। पिपराइच रोड को फोरलेन करने से आवागमन काफी आसान हो जाएगा। वर्तमान में असुरन चौराहे से पादरी बाजार तक, जंगल धूसड़ से पतरा और पिपराइच तक हर समय जाम है। बाजार और जंगल घूसड़ पर सबसे अधिक जाम पादरी लग रहे हैं। दोनों मार्केट में चार गुना वाहन लोड है। फोरलेन होने से तीन चौराहों पर लगने वाला जाम बहुत कम हो जाएगा।

19.48 किलोमीटर असुरन से पिपराइच की दूरी है। असुरन से पिपराइच 19.48 किलोमीटर दूर है। इस बीच, यहां चार चौराहे हैं जो एक जंक्शन की तरह काम करते हैं। असुरन से लगभग पांच किलोमीटर दूर, सबसे पहले पादरी बाजार चौराहा मिलता है। यहां से भी मोहद्दीपुर और मेडिकल कॉलेज जाता है। इसके बाद करीब दो किलोमीटर की दूरी पर जंगल धूसड़ आता है। यहाँ से गुलरिहा और वायुसेना की ओर जाता है। इसके बाद पिपराइच चौराहा और पतरा बाजार आते हैं।

विरासत गलियारे के लिए भी टेंडर जारी

लोक निर्माण विभाग ने आगामी आचार संहिता को देखते हुए धर्मशाला से आर्यनगर, बक्शीपुर, रेती चौक, घंटाघर तक चौड़ीकरण का टेंडर भी जारी किया है। इसके बावजूद, यह टेंडर मंजूरी के इंतजार में जारी किया गया है। वर्तमान रिपोर्टों के अनुसार, धर्मशाला बाजार से पाण्डेय हाता तक सड़क की चौड़ाई 16.50 मीटर होगी। दोनों तरफ सड़क से 8.25 मीटर की चौड़ाई होगी। सर्वे में भी पता चला कि दोनों पक्षों ने कुछ हिस्से तक अतिक्रमण किया है और कुछ हिस्से को अधिग्रहीत किया जाएगा। चौड़ीकरण के दौरान भवन और जमीन को क्षतिपूर्ति दी जाएगी।

पीडब्‍ल्‍यूडी इंजीनियर बोले

पीडीबीडी के अधीक्षण अभियंता हेमराज सिंह ने बताया कि असुरन से पिपराइच तक फोरलेन प्रोजेक्ट के साथ नौ कार्यों का टेंडर जारी किया गया है। टेंडर गिरने के बाद अगली कार्रवाई की जाएगी। निविदा प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 22 फरवरी है।

Also Read : Cheapest Western Clothes : 1000 वाली चीज मिलेगी सिर्फ 100 रुपए में, ब्रांडेड शर्ट व जींस किलो के भाव

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like