home page

मेड़ता मंडी परिसर में खुलेगी बैंक शाखा, किसानों और व्यापारियों को फायदा, 15 साल का हुआ करार

यूनियन बैंक नें 15 साल की लीज पर करार किया है. जिसके लिए 1800 स्क्वायर फीट का कारपेट एरिया बैंक द्वारा लिया गया है. अगले जून के महीने में यहां बैंकिंग सुविधाओं का लाभ किसानों और व्यापारियों को मिलेगा.
 | 
मेड़ता मंडी परिसर में खुलेगी बैंक शाखा, किसानों और व्यापारियों को फायदा, 15 साल का हुआ करार

Merta News : राजस्थान की मेड़ता कृषि उपज मंडी में बैंक खोला जाएगा. जिससे यहां व्यापारियों और किसानों को लेनदेन करने में मदद मिलेगी. इसके लिए यूनियन बैंक और मंडी का करार हुआ है. बैंक ने 1800 स्क्वायर फीट एरिया किराए पर लिया है. जिसमें अगले महीने से बैंक शाखा खुलने का काम शुरू हो जाएगा. बैंक खुलने के बाद यहां आने वाले किसानों और व्यापारियों को राहत मिलेगी.

व्यापारियों द्वारा बड़ी रकम को मंडी परिसर से बाहर दूसरे बैंकों में ले जाने के लिए हमेशा डर बना रहता था. ठीक इसी प्रकार से फसल बेचने के बाद किसानों द्वारा आमदनी की रकम घर ले जाने में भी जोखिम बना रहता है. अब अपना लेने देन मंडी परिसर की बैंक शाखा में ही कर सकेंगे. और किसान अपनी फसल का पैसा यहां जमा भी करवा सकता है जिससे उनका जोखिम कम हो जाएगा.

15 साल की लीज पर करार

मंडी सचिव राजेंद्र कुमार रियाड़ ने जानकारी दी की यूनियन बैंक नें 15 साल की लीज पर करार किया है. जिसके लिए 1800 स्क्वायर फीट का कारपेट एरिया बैंक द्वारा लिया गया है. अगले जून के महीने में यहां बैंकिंग सुविधाओं का लाभ किसानों और व्यापारियों को मिलेगा. बता दें की मंडी में 6 साल बाद फिर बैंक स्थापित किया जा रहा है. यहां 6 साल पहले एसबीबीजे बैंक की शाखा थी. जो चली गई थी. अब यूनियन बैंक के खुल जाने के बाद किसने और व्यापारियों को बड़ा फायदा मिलने वाला है.

मेड़ता मंडी प्रदेश की विशिष्ट श्रेणी की मंडी है यहां किसान मसाला फसलों को बेचने के लिए आते हैं. यहां जीरा, मूंग, मोठ, इसबगोल, सौंफ, असालिया, सुवा, सरसों और कपास इत्यादि का व्यापार होता है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like