home page

उत्तर प्रदेश में बिजली बिल में मिलेगा छुटकारा, योगी सरकार अब केंद्र के साथ देगी सब्सिडी

Lucknow News : सोलर पैनल लगाना अब और भी आसान है। केंद्रीय सरकार ने सोलर पैनल के लिए सब्सिडी बढ़ा दी है। यूपी सरकार भी इसमें शामिल हुई है।
 | 
उत्तर प्रदेश में बिजली बिल में मिलेगा छुटकारा, योगी सरकार अब केंद्र के साथ देगी सब्सिडी

Saral Kisan (UP News) : केंद्र सरकार ने लोगों के घरों को सौर ऊर्जा से रौशन करने के लिए एक नई योजना शुरू की है। केंद्रीय सरकार घरों की छतों पर सोलर रूफटॉप पैनल लगाने का समर्थन करती है। केंद्र सरकार ने इसके लिए सब्सिडी बढ़ा दी है, इससे निम्न वर्ग के बिजली उपभोक्ताओं को बिजली लगवाना सस्ता होगा और घरों में सूर्य की ऊर्जा से बिजली मिलेगी।

केंद्र सरकार एक किलोवाट सोलर पैनल पर 30 हजार रुपये सब्सिडी देती है, जबकि दो किलोवाट पर 60 हजार रुपये सब्सिडी दी जाती है। इसके अलावा, 10 किलोवाट से 3 किलोवाट की क्षमता वाले सोलर पैनल लगाने पर 78 हजार रुपये की सब्सिडी देती है। केंद्र सरकार की इस पहल में सहयोग करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार एक किलोवाट से तीन किलोवाट तक 30 हजार रुपये का अनुदान देती है।

बैंकों द्वारा सोलर पट्टी लगाने पर अनुदान

इसके अलावा, बैंक सोलर पैनल बनाने के लिए भी धन देता है। रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज बाजपेई ने बताया कि सोलर पैनल की लागत दो किलोवाट पर लगभग 1.25 लाख रुपये और तीन किलोवाट पर लगभग 1.80 लाख रुपये होगी। तीन किलोवाट के पैनल लगाने पर 1.08 लाख रुपये सब्सिडी मिलेगी, जबकि दो किलोवाट के पैनल लगाने पर 90 हजार रुपये सब्सिडी मिलेगी।

पहले एक किलोवाट पर 18 हजार सब्सिडी मिलती थी

इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (आईआईए) के सदस्य हिमांशु रावत ने बताया कि केंद्र सरकार ने पहले एक किलोवाट पर 18 हजार रुपये की सब्सिडी दी थी, दो किलोवाट पर 36 हजार रुपये की और तीन किलोवाट पर 54 हजार रुपये की। अब दो किलोवाट पर 60 हजार रुपये, तीन किलोवाट से 10 किलोवाट तक 78 हजार रुपये होंगे। उनका कहना था कि तकत लखनऊ में अभी पांच हजार ग्राहक हैं, लेकिन केंद्रीय सरकार की सब्सिडी बढ़ने से ग्राहक को फायदा होगा।

ये पढ़ें : उत्तर प्रदेश के इस शहर में है सबसे लंबा रेलवे स्टेशन, 26 डिब्बों वाली 2 ट्रेनें एक साथ होती है खड़ी

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like