home page

उत्तर प्रदेश के इस जिले में जमीन अधिग्रहण कर रही सरकार, इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का होगा निर्माण

UP News : उत्तर प्रदेश में एक्सप्रेसवे के किनारे नई औद्योगिक गलियारों का निर्माण हो रहा है। किसी भी जिले में औद्योगिक गलियारा बनने के बाद जमीनों के दाम में अच्छा खासा इजाफा होता है। उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल एक्सप्रेसवे किनारे औद्योगिक गलियारा प्रस्तावित है। इस औद्योगिक गलियारे (Industrial Corridor) के लिए जमीन अधिग्रहण के बैनामे शुरू हो चुके हैं। 

 | 
उत्तर प्रदेश के इस जिले में जमीन अधिग्रहण कर रही सरकार, इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का होगा निर्माण

Uttar Pradesh News : उत्तर प्रदेश में 1800 बीघा जमीन पर औद्योगिक गलियारे के लिए जमीन बैनामे की प्रक्रिया काफी धीमी चल रही है। उत्तर प्रदेश में है हैदरिया से लखनऊ जाने वाले पूर्वांचल एक्सप्रेस के किनारे है औद्योगिक गलियारा स्थापित होगा। अगर उत्तर प्रदेश में जमीन बैनामे की यही प्रक्रिया यही रही तो बहुत ज्यादा समय लग जाएगा।

उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल एक्सप्रेसवे किनारे औद्योगिक गलियारे (Industrial Corridor) के लिए 70 करोड रुपए उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण की तरफ से जमीन बैनामे के लिए जारी कर दिए गए। जमीन अधिग्रहण के मुआवजे के लिए अब तक 395 करोड रुपए जारी कर दिए गए। देश में अभी लोकसभा चुनाव का सीजन जारी है। लोकसभा चुनाव के चलते जमीन बैनामे अभी फिलहाल नहीं हो रहे हैं।

आस-पास के गांवों की जमीन के बैनामे शुरू 

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे हैदरिया से लखनऊ तक बनकर तैयार हुआ हैं। जनपद के मुहम्मदाबाद तहसील क्षेत्र के हैदरिया से लखनऊ का सफर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से बड़ा सुहाना हुआ हैं। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बनते ही औद्योगिक गलियारा की प्रक्रिया सरकार ने तेज कर दी थी। बता दे की जमीन का बैनामा जनवरी महीने से ही हैदरिया के आस-पास के गांवों की जमीन शुरू हो गया हैं। 

95 करोड रुपए जारी

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे किनारे प्रस्तावित औद्योगिक गलियारे (Industrial Corridor) के लिए अबतक 104 हेक्टेयर जमीन के 202 बैनामे किए जा चुके हैं। अब तक सिर्फ मुहम्मदाबाद तहसील के बैनामे में हुए हैं। जमीन बैनामे का कार्य फिलहाल लोकसभा चुनाव के चलते रुका हुआ है। अगले महीने की 4 तारीख के बाद ही आगे की प्रक्रिया शुरू होगी। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने अब तक जमीन खरीदने के लिए 395 करोड रुपए जारी कर दिए है।

फाइलों का भुगतान मनमाने तरीके से

औद्योगिक गलियारे (Industrial Corridor) के लिए अबतक 202 बैनामों के बदले हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण हुआ हैं। यूपीड़ा की तरफ से अबतक 156 बैनामा के लिए 312 करोड़ का भुगतान किया जा चुका हैं। कर्मचारी पर भी अपनी मनमर्जी चलाने के आरोप लग रहे हैं। बता दे की फाइलों का भुगतान कर्मचारी मनमाने तरीके से कर रहे हैं। सीआरओ को फाइल कर्मचारी मनमाने तरीके से भेजते हैं।
 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like