home page

UP Top 10 News : न्यायिक अधिकारियों की भर्ती प्रक्रिया में बदलाव, मौसम सहित उत्तर प्रदेश की अन्य टॉप खबरें

UP Top 10 News : राज्य सरकार ने न्यायिक अधिकारियों की भर्ती प्रक्रिया में बदलाव किया है। राम मंदिर की पूजा पद्धति बदली गई है। अब राम लला संग भाइयों की स्तुति होगी। उत्तर प्रदेश सहित देश के इन राज्यों में छाया कोहरा।
 | 
UP Top 10 News: Changes in the recruitment process of judicial officers, weather and other top news of Uttar Pradesh

Saral Kisan, UP : राज्य सरकार ने न्यायिक अधिकारियों की भर्ती प्रक्रिया में बदलाव किया है। अयोध्या के नव निर्मित राम मंदिर की पूजा पद्धति में बदलाव किया गया है। अब रामलला के साथ ही चारों भाइयों की भी स्तुति की जाएगी। पूजा के बाद  श्री अयोध्या नाथ व सरयू मैया के भी जयकारे लगेंगे।

उत्तर प्रदेश की टॉप 10 न्यूज

न्यायिक अधिकारियों की भर्ती में बड़ा बदलाव, जानें योगी सरकार का अहम फैसला

राज्य सरकार ने न्यायिक अधिकारियों की भर्ती प्रक्रिया में बदलाव किया है। भर्ती के लिए दो स्तरीय प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा कराई जाएगी। इसके लिए उत्तर प्रदेश उच्चतर न्यायिक सेवा (सोलहवां संशोधन) नियमावली-2023 में प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही पदों की संख्या भी बढ़ा कर 1340 कर दी गई है। इसमें स्थाई 799 और अस्थाई 541 हैं। पहले 150 थी। मुख्यमंत्री ने गुरुवार को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन इसे मंजूरी दी है।

राम मंदिर की पूजा पद्धति में हुआ बदलाव! रामलला संग भाइयों की स्तुति

अयोध्या के नव निर्मित राम मंदिर की पूजा पद्धति में बदलाव किया गया है। अब रामलला के साथ ही चारों भाइयों की भी स्तुति की जाएगी। पूजा के बाद  श्री अयोध्या नाथ व सरयू मैया के भी जयकारे लगेंगे। नए मंदिर के लिए नई रामार्चन की नई संहिता तैयार कर मुख्य पुजारी समेत अन्य पुजारियों को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने सौंप दी।

अयोध्या परिक्षेत्र में दौड़ेंगी 150 ई-बसें, ई-कार्ट व पिंक ऑटो भी चलेंगे, जानें किराया

अयोध्यावासियों और दूरदराज से अयोध्या पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए पहली बार स्पेशल परपज व्हीकल (एसपीवी) का गठन हुआ है। इसके अंतर्गत तीन श्रेणियों में 200 पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सरकारी सुविधा मुहैया कराई जाएगी। ये तीन श्रेणियों के वाहन अयोध्या के पांच रूटों पर चलेंगे। इनमें इलेक्ट्रिक बसों से लेकर गोल्फ कार्ट और पिंक ऑटो तक हैं। 14 जनवरी को सीएम इसकी शुरुआत करेंगे।

उत्तर प्रदेश सहित देश के इन राज्यों में छाया कोहरा, ऐसा रहेगा आज का मौसम

यूपी में कोहरे का कहर है। बर्फीली पछुआ हवा ने ठंड बढ़ा दी है। सुबह घना कोहरा, ठिठुरन और गलन ने लोगों को बेहाल कर दिया। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ इलाकों में घना कोहरा छाया रहने का आरेंज अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा कई अन्य जिलों में कोहरा छाया रहने की यलो वार्निंग भी जारी हुई है।

प्राण प्रतिष्ठा के दिन सरयू तट पर दिवाली जैसा होगा, 14 जनवरी को डिजिटल टूरिस्ट ऐप होगा लॉन्च

अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा की शाम सरयू तट पर दीपावली जैसा माहौल रहेगा। सरयू तट पर दीपोत्सव के साथ आतिशबाजी का भी आयोजन किया गया है। 18 जनवरी से रामनगरी में निजी भवनों के निर्माण पर रोक लगा दी जाएगी। श्रद्धालुओं को दर्शनीय स्थलों की जानकारी देने के लिए 250 पुलिस गाइड की तैनाती होगी। 14 जनवरी को डिजिटल टूरिस्ट ऐप लांच कर दिया जाएगा।

चित्रकूट के रास्ते से अयोध्या आएगी श्रीराम चरण पादुका यात्रा, तारीख हुई तय

अयोध्या में आयोजित रामोत्सव के तहत चित्रकूट से अयोध्या तक श्रीराम चरणपादुका यात्रा निकाली जाएगी। यात्रा 15 जनवरी को भरतपूर (चित्रकूट) से प्रारंभ होकर 19 जनवरी को नंदीग्राम (अयोध्या) पहुंचेगी। पांच दिवसीय यात्रा कौशाम्बी, प्रयागराज, प्रतापगढ़, सुलतानपुर होते हुए अयोध्या जाएगी।

UPPSC में अभ्यर्थियों से पूछा- 22 जनवरी को क्यों हो रही प्राण प्रतिष्ठा? किन पत्थरों से बन रहा राम मंदिर?

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग में सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (पीसीएस) 2023 के साक्षात्कार जारी है। गुरुवार को बोर्ड अभ्यर्थियों से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण और रामलला के नूतन विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े कई प्रश्न पूछे। इंटरव्यू के चौथे दिन भी छह बोर्ड बैठे, जिन्होंने 90 अभ्यर्थियों का साक्षात्कार लिया। इंटरव्यू के दौरान कृषि से संबंधित भी सवाल किए गए।

माघ मेला में आए 175 साधु-संतों ने प्रशासन से मांगी कड़ी सुरक्षा, जानें कैसे होगा मांग पर फैसला

प्रयागराज के माघ मेला क्षेत्र में राम नाम का जाप करने वाले साधु संतों को सुरक्षा की दरकार है। मेला क्षेत्र में शिविर एवं अन्य सुविधा की मांग करने के साथ ही साधु संतों ने सुरक्षा के लिए भी आवेदन किया है। साधु संतों के आवेदन पत्रों को जांच के लिए एलआईयू को भेजा गया है ताकि यह स्पष्ट हो सके कि वास्तव में खतरा है या नहीं। एलआईयू रिपोर्ट के आधार पर सुरक्षा दी जाएगी।

यूपी के बाराबंकी समेत इन 5 जिलों में बनेंगे 13 हजार आवास, डीपीआर हुई मंजूर

मुख्य सचिव  दुर्गा शंकर मिश्र ने बाराबंकी, फतेहपुर, गोरखपुर मिर्जापुर, रायबरेली की 06 परियोजनाओं में 13,638 आवासों के निर्माण को  डीपीआर को मंजूरी दे दी। मुख्य सचिव ने गुरुवार को प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत स्टेट लेवल मॉनीटरिंग कमेटी की बैठक में यह निर्णय लिया। इन आवासीय परियोजनाओं की कुल लागत 46,048.78 लाख है। इसमें केंद्र  20,457 लाख रुपये खर्च व यूपी  13,638 लाख रुपये  खर्च करेगा।  लाभार्थी अंशदान 11,953.78 लाख रुपये होगा।

गोरखपुर की श्री रामसेवा कार्य समिति ने दी थी राम मंदिर आंदोलन को धार, ये थे सदस्य

श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर में 22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा को लेकर पूरी दुनिया में कौतुहल से अयोध्या की ओर देख रही है वहीं कारसेवकों की आंखों से खुशी के आंसू छलक जा रहे हैं। अयोध्या में कारसेवकों पर गोली चलने की घटना के बाद राम मंदिर को लेकर 30 अक्तूबर, 1990 को विहिप द्वारा श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति यज्ञ समिति का गठन ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की अध्यक्षता में हुआ।

ये पढ़ें : उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने जनता को दी सौगात, रोडवेज बसों में इन लोगों का नहीं लगेगा किराया

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like