home page

उत्तर प्रदेश से दिल्ली सफऱ होगा बेहतर, इन रूट पर 7 चार्जिग प्वाइंट बनेंगे और चलेगी इलेक्ट्रिक बसें, किराया लगेगा कम

UP Agra News :भारत देश में जैसे रेलवे मैं सफ़र करना सबसे बेहतर है, उसी तरह यूपी सरकार भी अपनी जनता को दे रही है इलेक्ट्रिक बसों की सौगात। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम द्वारा दी जाने वाली यह बसें भी रेलवे की तरह यूपी के यात्रियों को दूसरे राज्यों मैं पहुंचाएगी।
 | 
उत्तर प्रदेश से दिल्ली सफऱ होगा बेहतर, इन रूट पर 7 चार्जिग प्वाइंट बनेंगे और चलेगी इलेक्ट्रिक बसें, किराया लगेगा कम

UP Agra News : भारत देश में जैसे रेलवे मैं सफ़र करना सबसे बेहतर है, उसी तरह यूपी सरकार भी अपनी जनता को दे रही है इलेक्ट्रिक बसों की सौगात। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम द्वारा दी जाने वाली यह बसें भी रेलवे की तरह यूपी के यात्रियों को दूसरे राज्यों मैं पहुंचाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदूषण कम करने के लिए यह कदम उठाया है। उत्तर प्रदेश की ज्यादातर बसें डीजल से चलती है उन बसों को  धीरे-धीरे करके बैटरी से चलने वाली बसों में बदला जा रहा है।

उत्तर प्रदेश के आगरा परिवहन निगम क्षेत्र में भी बिजली से चलने वाली बसों की संख्या लगातार बढ़ रही है। डिपो में इलेक्ट्रिक बस अब आगरा, मथुरा, फिरोजाबाद के साथ दिल्ली एनसीआर तक दौड़ लगाएगी। लंबी दूरी का सफर तय करने के लिए उत्तर प्रदेश रोडवेज आगरा डिपो को 50 बैटरी संचालित बसें देने जा रहा है।

4 जून के बाद मिलेंगी बसें

लोकसभा चुनाव आचार संहिता के हटते ही चरणबद्ध तरीके से उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग को बसें मिलना शुरू हो जाएंगी. डीजल बसों के मुकाबले इनमें किराया भी कम होगा. इन सभी ई-बसों को आईएसबीटी से संचालित किया जाएगा. इसके लिए चार्जिंग प्वाइंट बनाए जाने की कवायद शुरू की जाएंगी.

आधा होगा किराया और प्रदूषण होगा कम 

आगरा परिवहन निगम क्षेत्र के प्रबंधक बीपी अग्रवाल ने बताया कि बैटरी से चलने वाली अभी शहर में ही चल रही है. अब 200 किलोमीटर की दूरी तक के सफर के लिए भी इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएगी. 4 जून के बाद आचार संहिता खत्म होने के बाद 50 ई-बसें मिलने जा रही हैं. इन सभी बसों को आगरा फोर्ट डिपो के आईएसबीटी पर लगाया जाएगा. इन बसों को चार्ज करने के लिए 6-7 चार्जिग प्वाइंट भी बनाए जाएंगे. इससे डीजल की खपत कम होगी, प्रदूषण नहीं होगा और किराया भी कम होगा.

फिलहाल सिटी बसों के तौर पर चल रहीं हैं बसें

उत्तर प्रदेश के आगरा में अभी तक इलेक्ट्रिक बसें शहर के अलावा फतेहपुर सीकरी, आगरा-जगनेर, आगरा-बाह-फतेहाबाद, आगरा-फ़िरोज़ाबाद के लिए संचालित हैं. ये सभी बसें कम दूरी की हैं और सभी वातानुकूल हैं.इन बसों के माध्यम से यात्रियों को जहां गर्मी से निजात मिलेगी, इसके साथ ही जेब पर भी भार कम पड़ेगा.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like