home page

उत्तर प्रदेश में अब 7 चरण में यहां बनेगी नई फिल्म सिटी, 230 एकड़ जमीन पर पर होगा पूरा प्रॉजेक्ट

Greater Noida:फिल्म निर्माता बोनी कपूर की बेव्यू प्रॉजेक्ट्स और भूटानी ग्रुप ने यमुना प्राधिकरण के सेक्टर-21 में फिल्म सिटी की विकास योजना में सिग्नेचर टॉवर, प्रशासनिक ब्लॉक और क्रिएटिव हब को बनाने की योजना बताई है। इसके अलावा, व्यावसायिक क्षेत्र, उत्पादन घर और स्टूडियो भी बनाए जाएंगे।

 | 
उत्तर प्रदेश में अब 7 चरण में यहां बनेगी नई फिल्म सिटी, 230 एकड़ जमीन पर पर होगा पूरा प्रॉजेक्ट

Greater Noida : फिल्म निर्माता बोनी कपूर की बेव्यू प्रॉजेक्ट्स और भूटानी ग्रुप, यमुना प्राधिकरण के सेक्टर-21 में फिल्म सिटी का पहला चरण विकसित करेंगे। कम्पनी ने प्रजेंटेशन में कहा कि वह इसे सात क्षेत्रों में विभाजित कर विकास करेगी। 230 एकड़ में फिल्म सिटी में एक शानदार टॉवर बनेगा। इसमें एक आर्ब्जवेशन डेक, एक फिल्म म्यूजियम और एक एम्फीथिएटर होगा। मुख्य फिल्म निर्माण कार्यों के लिए 60 एकड़ जमीन उपलब्ध होगी। यह क्षेत्र प्रशासनिक ब्लॉक के अंतर्गत होगा। जोन-7 में 70 एकड़ का कमर्शल क्षेत्र बनाया जाएगा।

फिल्म निर्माता बोनी कपूर की बेव्यू प्रॉजेक्ट्स और भूटानी ग्रुप, यमुना प्राधिकरण के सेक्टर-21 में फिल्म सिटी का पहला चरण विकसित करेंगे। कम्पनी ने अपने प्रजेंटेशन में कहा कि वह इसका विकास सात क्षेत्रों में करेंगे। Film City के मुख्यद्वार के पास Zone-1 होगा। 10 एकड़ में यह होगा। इसमें क्रिएटिव और प्रशासनिक हब होंगे। इसमें सिग्नेचर किले होंगे। सिग्नेचर टॉवर में सुरक्षा नियंत्रण कक्ष और स्वचालित पार्किंग व्यवस्था होगी।

टॉवर की निचली मंजिलों में व्यावसायिक और मनोरंजन स्थान, बुटीक दुकानें, सिनेमा मल्टीप्लेक्स, रेस्तरां आदि बनाए जाएंगे। बीच में कार्यालय, आवासीय सुइट, धार्मिक स्थान और स्काई गार्डन होंगे। टॉवर की ऊपरी मंजिलों में साउंड स्टूडियो, साउंडप्रूफ रिकॉर्डिंग स्टूडियो, सुइट्स, निजी स्क्रीनिंग रूम और पोस्ट-प्रोडक्शन सेंटर होंगे। टावर की शीर्ष मंजिल पर एक प्रयोगशाला, कार्यस्थल और स्टूडियो होगा। साथ ही पेंटहाउस, सेलिब्रिटी क्लब, हेलीपैड, प्रयोगशाला और सिनेमाई पुस्तकालय भी होंगे।

ज़ोन-2 में उत्पादन घर और स्टूडियो बनेंगे: जोन-2 60 एकड़ में है। इसमें एक कारखाना और एक स्टूडियो होगा। इसका स्थान प्रशासनिक ब्लॉक के निकट होगा। केंद्र में एक खुला स्ट्रक्चर स्टूडियो और साउंड स्टेज होगा। आउटडोर सेट इसके आसपास बनेंगे। स्टूडियो में एक पोस्ट-प्रोडक्शन घर और एक वर्कशॉप होगा। फिल्म एकेडमी और रिसर्च लाइब्रेरी यहीं होगी। Zone-3 20 एकड़ से अधिक जमीन पर बना है।

यहां घरों और कर्मचारियों के लिए सुविधाएं बनाई जाएंगी। इसमें कलाकारों और अन्य लोगों के लिए अपार्टमेंट, होटल, स्वास्थ्य केंद्र और गेस्ट हाउस शामिल होंगे। जोन-4 15 एकड़ में बनेगा। कारखानों और कला के क्षेत्रों को यह क्षेत्र समर्पित होगा। यहाँ फिल्म सेट, कपड़े और प्रॉप्स बनाए जाएंगे। यहां बहुमंजिला कॉस्ट्यूम फ़ैक्टरी होगी। 35 एकड़ में क्षेत्र 5 विकसित करेंगे। यह मनोरंजन और आराम के लिए बनाया जाएगा।

जोन-6 में फिल्म कॉलेज होगा। 20 एकड़ में यह बनेगा। यह विद्यार्थियों को प्रयोगात्मक सीखने का अवसर देगा। इसमें अत्याधुनिक कक्षाएं, स्टूडियो, प्रयोगशाला आदि होंगे। जोन-7 70 एकड़ का व्यावसायिक क्षेत्र होगा। केंद्रीय बुलेवार्ड, सभी क्षेत्रों के पार्कों और हरे स्थान इसके बाहर होंगे।

ये पढे : UP News : उत्तर के युवाओं को लेकर योगी सरकार का बड़ी प्लानिंग, रोजगार की आएगी बाढ़

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like