home page

उत्तर प्रदेश के इन 6 जिलों के अंग्रेजों के समय बने रेलवे स्टेशनों को किया जाएगा हाईटेक, एयरपोर्ट जैसी दी जाएगी सुविधाएं

UP railway station : उत्तर प्रदेश से एक महत्वपूर्ण खबर मिली है। दरअसल, उत्तर प्रदेश के छह जिलों में अंग्रेजों की आबादी से बनाए गए रेलवे स्टेशनों को सरकारी स्तर पर सुधार किया जाएगा। अब यात्रियों को एयरपोर्ट की तरह सुविधाएं इन रेलवे स्टेशनों पर मिलेंगी। रिपोर्ट बताती है कि स्टेशनों पर वेटिंग हाल बहुत अत्याधुनिक होंगे।
 | 
The railway stations built during the British in these 6 districts of Uttar Pradesh will be made hi-tech, airport like facilities will be provided.

Saral Kisan : अब उत्तर प्रदेश के महोबा में पुराने ब्रिटिश रेलवे स्टेशन को स्मार्ट स्टेशन बनाने के लिए काम चल रहा है। अमृत भारत स्टेशन परियोजना के तहत बुंदेलखंड में लगभग आधा दर्जन रेलवे स्टेशन जल्द ही सुसज्जित होंगे। ट्रेन में भी मुसाफिरों को विशेष सुविधाएं मिलेगी। बुंदेलखंड क्षेत्र के महोबा, बांदा, चित्रकूट, जालौन, ललितपुर और झांसी रेलवे स्टेशनों को सुधारने के लिए उत्तर मध्य रेलवे ने एक योजना बनाई है।

सब स्टेशनों को भी आधुनिक बनाया गया है। अमृत भारत स्टेशन परियोजना के तहत ये सभी रेलवे स्टेशन अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित होंगे। वीरभूमि महोबा रेलवे स्टेशन, जो अंग्रेजों के जमाने का है, की इमारत का पुनर्निर्माण अब पूरा हो गया है। इन दिनों स्टेशन में वेटिंग हाल को सुधारने का काम तेजी से हो रहा है। ताकि मुसाफिरों को गर्मी और सर्दी के दौरान बहुत राहत मिल सके। स्टेशन का वेटिंग हाल अत्यंत नवीन बनाया जा रहा है। ये पूरी तरह से हवादार होगा। स्मार्ट रेलवे स्टेशन बनने के बाद इसकी दिशा ही बदल जाएगी।

स्मार्ट रेलवे स्टेशन योजना

महोबा रेलवे स्टेशन इंचार्ज पी. तिवारी ने बताया कि महोबा जक्शन बुंदेलखंड क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन है। यहां इसका कोड एमबीए काम करता है। ये स्टेशन ए श्रेणी का है। बताया गया कि इस स्टेशन पर पांच रेलवे ट्रैक और तीन प्लेटफार्म हैं। बताया गया है कि भारतीय रेलवे ने अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत देश भर में 1309 स्टेशनों की मरम्मत की शुरुआत की है। यह भी महोबा रेलवे स्टेशन है। यहां का रेलवे स्टेशन जल्द ही स्मार्ट स्टेशन बन जाएगा। यात्रियों को अतिरिक्त सुविधाएं भी मिलेगी।

एयरपोर्ट के समान सुविधाएं

रेलवे स्टेशनों को अमृत भारत स्टेशन परियोजना के तहत एयरपोर्ट की तरह सुविधाएं मिलेगी। इसके अलावा, अत्याधुनिक वाईफाई सुविधाओं से लैस वेटिंग हाल्स भी बनाए जाएंगे। स्टेशन प्लेटफार्म पर लिफ्ट और एस्केलेटर भी होंगे। वन स्टेशन वन उत्पादों के लिए कियास्क भी बना रहे हैं, साथ ही फ्री वाईफाई भी। मुसाफिरों को ट्रेन लेट होने और उनकी कोई मीटिंग होने पर स्टेशनों पर बिजनेस मीटिंग करने के लिए बहुत खास जगह मिलेगी।

अमृत भारत स्टेशन प्रोजेक्ट

रेलवे डिपार्टमेंट की 149 रेलवे स्टेशनों को स्मार्ट बनाने के लिए उत्तर मध्य रेलवे ने अमृत भारत स्टेशन परियोजना शुरू की, जो बुंदेलखंड के कई स्टेशनों को बदल देगा। इनमें बुंदेलखंड के छह रेलवे स्टेशन (ललितपुर, झांसी, बांदा, महोबा, चित्रकूट) की पुरानी इमारतों का पुनर्निर्माण कार्य शुरू किया गया है। स्टेशनों में आधुनिकीकरण की शुरुआत से मुसाफिरों को बेहतरीन सुविधाएं मिल जाएंगी।

ये पढ़ें : UP News : 100 करोड़ की लागत से उत्तर प्रदेश के इस शहर में बनेगी 10 सड़कें, सफर होगा आसान

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like