home page

उत्तर प्रदेश में NCR के जैसा बनेगा SCR, प्रदेश के ये 8 जिले होंगे शामिल, बढ़ने वाली है जमीन के भाव

UP New SCR : योगी सरकार अब उत्तर प्रदेश में SCR बनाने की तैयारी कर रही है। इसमें आठ राज्यों को शामिल किया जाएगा। एक रिपोर्ट में पता चला है कि इस प्रोजेक्ट पर जल्द ही काम शुरू कर दिया जाएगा।
 | 
SCR will be made like NCR in Uttar Pradesh, these 8 districts of the state will be included, land prices are going to increase

Saral Kisan, UP : उत्तर प्रदेश में स्टेट कैपिटल रीजन बनाने की तैयारी चल रही है. इसका दायरा 34000 वर्ग किलोमीटर होगा। इसमें राज्य के 8 जिलों को शामिल किया जाएगा।

खबरों के अनुसार, यह प्रोजेक्ट 6 महीने से ठंडे बस्ते में था लेकिन एक बार फिर यह फाइल दोबारा खोली गई है. इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सीधे तौर पर नजर बनाए हुए हैं. इन आठों जिलों को मोबिलिटी एंड ट्रांसपोर्टेशन का एक नेटवर्क बनाकर जोड़ा जाएगा।

इन जिलों में मेट्रो और एक्सप्रेसवे की कनेक्टिविटी दी जाएगी. इन्हीं के जरिए इन जिलों को आपस में जोड़कर यातायात को तेज किया जाएगा. हाल ही में राज्य सरकारी की इस संबंध में हुई बैठक में इस संबंध में कुछ जरूरी फैसले लिए गए हैं. खबर है कि एससीआर के काम को तेजी से पूरा करने का निर्देश दिया गया है।

एससीआर के लिए मोबिलिटी एंड ट्रांसपोर्टेशन का प्रस्ताव अलग से तैयार किया गया है. नए शहरों को जोड़ने के लिए नए आउटर रिंग रोड, मेट्रो कॉरिडोर, एक्सप्रेस वे बनाए जाएंगे. इसके अलावा मौजूदा मार्गों और मेट्रो का भी विस्तार किया जाएगा।

किसे मिलेगा लाभ?

एससीआर में नए कॉरिडोर विकसित किए जाएंगे. इसके लिए नए सिरे से सर्वे भी किया जाएगा. नए कॉरिडोर बनने से इन 8 शहरों के बीच जाम की परेशानी कम होने की उम्मीद है।

प्रशासन की ओर से जो प्रस्ताव रखा गया है उसमें एससीआर का कुल एरिया 34000 वर्ग किलोमीटर है. इसमें लखनऊ और कानपुर सबसे बड़ा क्षेत्र होंगे. एक अधिकारी का कहना है कि इस परियोजना में अब तेजी देखने को मिल सकती है।

कौन-कौन से शहर जोड़े जाएंगे?

यूपी के एससीआर में लखनऊ, कानपुर नगर, कानपुर देहात, रायबरेली, उन्नाव, बाराबंकी, सीतापुर तथा हरदोई को शामिल किया जाएगा. इन 8 शहरों की जनसंख्या लगभग 2.9 करोड़ रुपये है।

 गौरतलब है कि एससीआर बनने के बाद इन इलाकों में कंपनियों के दफ्तर और फैक्ट्रियों की संख्या बढ़ सकती है. इससे नए रिहायशी इलाके भी डेवलप होंगे. नतीजतन, इन इलाकों में जमीन के रेट और ऊपर जा सकते हैं।

ये पढ़ें : NCR Metro : इस नई मेट्रो लाइन से सफर होगा आसान, बनाए जाएंगे 8 नए स्टेशन

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like