home page

Roti : एक दिन में रोटी खाने की कितनी लिमिट होनी चाहिए, आपके लिए भी हैं यह जरूरी बात

How Many Roti Should Be Eaten In A Day : क्या आप जानते हैं कि दिन में कितनी रोटी खानी चाहिए क्योंकि रोटी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है? आज हम आपको बताते हैं कि दिन में कितनी रोटी खाना फायदेमंद है।
 | 
Roti: What should be the limit of eating roti in a day, this is important for you also

Saral Kisan : हम सभी जानते हैं कि स्वस्थ खाना खाना बहुत महत्वपूर्ण है। खाने में सही चीजों को शामिल करना जितना महत्वपूर्ण है उतना ही महत्वपूर्ण है कि आप उन्हें कितनी मात्रा में खा रहे हैं। ऐसा ही आपके खाने की थाली में चपाती या रोटी के साथ भी है।  जब रोटी, सब्जी और दाल चावल खाने की थाली में नहीं होते, तो खाना पूरा नहीं होता। वहीं अधिकांश लोगों को रोटी पसंद है। घर में अक्सर दो या तीन बार रोटी खाई जाती है।

भारतीय थाली का ये जरूरी व्यंजन गेंहू के आटे से तैयार किया जाता है और रोटी, फुल्के, परांठा या पूरियों के रूप में भोजन में शामिल होता है. उत्तर भारत में रोटी खाने का प्रचलन ज्यादा है. सामान्य तौर पर रोटी को चावल से ज्यादा पौष्टिक माना जाता है. वेट लॉस करने के लिए भी लोग चावल के बजाए रोटी खाना ज्यादा पसंद करते हैं. लेकिन अति किसी भी चीज की अच्छी नहीं हाती है. इसके साथ ही रोटी खाने के लिए सही समय (Right time of eating) का ध्यान रखना भी जरूरी है, आइए जानते हैं एक दिन में कितनी रोटियां खाना (How Much Roti are Enough) सेहत के लिए हैं फायदेमंद और कब कर सकती हैं नुकसान.

1 दिन में कितनी रोटी खाना फायदेमंद

इतनी रोटियां हैं काफी

गेंहू के आटे से तैयार एक रोटी में लगभग 104 कैलोरी होती है. विशेषज्ञों के अनुसार महिलाओं के लिए दो रोटी सुबह और दो रोटी शाम को काफी है जबकि पुरुषों के लिए सुबह तीन और शाम को रोटी उनकी जरूरत के हिसाब से काफी होती हैं.

देर से पचती है रोटी

गेंहू में पाया जाने वाले कार्बोहाइड्रेट को पचने मे ज्यादा समय लगता है. अगर रात में रोटी खा रहे हैं तो सोने में तुरंत पहले खाने से बचें. अच्छा होगा कि रोटी की मात्रा कम रखें, सोने के तीन घंटे पहले खाएं और खाने के बाद दस मिनट वॉक करें.

सही तरीके से बनाएं रोटी

रोटी को सेहत के लिए अच्छी रखने के लिए उसे सही तरीके से बनाना जरूरी है. कच्ची रोटी डाइजेशन संबंधी परेशानी का कारण बन सकती है. गैस पर तेज आंच पर बनने के कारण रोटी अच्छी तरह से नहीं सिंक पाती है. कई लोग रोटी को फुलाने के लिए उसे गैस की आंच पर डाल देते हैं इससे भी रोटी ठीक से नहीं सिंक पाती है. बेहतर होगा कि तवे पर रोटी को दोनों तरफ से अच्छी तरह से सेंका जाए और साफ कपड़े की मदद से उसे तवे पर ही फुलाया जाए.

अस्वीकरण : सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. Saral Kisan इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

ये पढ़ें : उत्तर प्रदेश के 156 रेलवे स्टेशनों को बनाया जाएगा विश्वस्तरीय, रेल मंत्री ने किया बड़ा ऐलान, चेक करें लिस्ट

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like