home page

रेलवे मिनिस्टर का बड़ा प्लान, अब खत्म हो जाएगा वेटिंग लिस्ट का झंझट

केंद्र सरकार के रेलवे मंत्री ने बताया की आने वाले 5 साल में मोदी की गारंटी है। किसी भी रेलवे में यात्रा करने वाली यात्री को आसानी से कन्फर्म टिकट मिलेगा।

 | 
रेलवे मिनिस्टर का बड़ा प्लान, अब खत्म हो जाएगा वेटिंग लिस्ट का झंझट

Indian Railway : केंद्र सरकार के रेलवे मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया, कि अगर आज से 10 साल पहले की बात करें तो भारतीय रेलवे की अलग तस्वीर नजर आती थी। इस कार्यक्रम में उन्होंने बताया कि आने वाले पांच -छः साल में रेलवे वेटिंग लिस्ट का झंझट खत्म हो जाएगा। केन्द्रीय रेलवे मंत्री ने बिना नाम लिए आरजेडी सुप्रीमो पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ नेता थे, जो जमीन के बदले नौकरी देकर इस तरह के कारनामे करके अपने घर भरते थे।

बदल गई भारतीय रेलवे की तस्वीर

रेलवे मंत्री ने बताया कि बीते 10 साल में केंद्र सरकार ने भारतीय रेलवे में बड़ा परिवर्तन किया है। सबसे पहले उन्होंने रेलवे में टॉयलेट की सही व्यवस्था की है। उन्होंने कहा कि आज से 15 साल पहले कोई सोच नहीं सकता था, कि भारतीय रेलवे में इतनी सफाई होगी। भारतीय रेलवे से ढाई करोड़ लोग रोजाना सफर करते हैं। अगर पूरे साल की बात करें तो करीबन 750 करोड़ लोग ट्रेन से सफर करते हैं।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने रेलवे की अपेक्षा करते हुए सोचा ही नहीं होगा कि कोई परिवर्तन आ सकता। लेकिन बीजेपी सरकार ने आते ही इस प्रॉब्लम का समाधान ढूंढा और रेलवे में निवेश किया। पिछली सरकार रेलवे को जो ग्रांट देती थी उसे पर 7% ब्याज लगता था। इसका मतलब हुआ कि सरकार से सरकार के बीच ब्याज लगता था। बीजेपी सरकार हर काम को बड़ी बारीकी से जांचती है। जब उन्हें जब उन्हें यह समझ आया तो उन्होंने रेलवे के बजट को आम बजट में मर्ज कर दिया और यह परंपरा खत्म हो गई।

वेटिंग लिस्ट का झंझट होगा खत्म

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछली सरकारों में प्रतिदिन मात्र 4 किलोमीटर की स्पीड से कम होता था। हमारी सरकार ने बीते 1 साल में 5300 किलोमीटर पटरिया बिछाई है, इसके पिछले साल 5000 किलोमीटर बिछाई गई थी। वहीं बीते 10 साल में पूरे देश में 31000 किलोमीटर नई पटरियां बिछाई गई है। इतनी नई ट्रेन चल चुकी है कि वेटिंग लिस्ट का झंझट खत्म हो जाएगा।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like