home page

हरियाणा में 20 जून को दस्तक देगा प्री मानसून, 12 दिन प्रदेशवासियों को करना पड़ेगा हिटवेव का सामना

पश्चिमी विक्षोभ के चलते प्रदेश के ज्यादातर जिलों में बादलवई छाई हुई है. और कहीं-कहीं पर मामूली बारिश से हो रही है.
 | 
हरियाणा में 20 जून को दस्तक देगा प्री मानसून, 12 दिन प्रदेशवासियों को करना पड़ेगा हिटवेव का सामना

Haryana Monsoon : हरियाणा के ज्यादातर जिलों में पिछले 2 दिनों से वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव होने के कारण आंधी और मामूली बरसात के चलते आमजन को गर्मी से राहत मिली है. परंतु मौसम विभाग का कहना है कि प्रदेश में 20 जून से प्री मानसून की बारिश का दौर शुरू होगा. उसके बीच के दिनों में लोगों को हीट वेव का सामना करना पड़ सकता है.

क्योंकि 9 जून से एक बार फिर गर्मी को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. प्रदेश में दो दिन हुई बारिश और आंधी के कारण जिन जिलों का तापमान 49 डिग्री सेल्सियस के आसपास जा रहा था. वह अब 41 से 40 डिग्री के आसपास पहुंच गया है. कुल मिलाकर तापमान में हुई गिरावट को यदि आंकड़ों के मुताबिक देखे तो 11 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट प्रदेश के ज्यादातर जिलों में दर्ज की गई है.

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, फिलहाल के दौर में एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण हरियाणा के कई जिलों में बादलवई छाई हुई है. दक्षिणी पंजाब और उत्तरी राजस्थान पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है जिसकी वजह से बादलों का निर्माण हो रहा है.

यह बादलवाई के कारण पंचकुला, अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, पानीपत, जींद, सोनीपत, यमुनानगर, करनाल, फतेहाबाद, सिरसा और हिसार जिलों की जगह पर गरज चमक के साथ बारिश की बुंदे गिर रही है. पश्चिमी विक्षोभ के कारण जिलों में तापमान में हुई गिरावट के कारण लोगों को गर्मी से छुटकारा मिला है.

मानसून को लेकर अपडेट 

हिसार में कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग वैज्ञानिक डॉ मदन कीचड़ के मुताबिक, हरियाणा प्रदेश से मानसून की दूरी अभी 2 हजार किलोमीटर के आसपास है. परंतु सबसे अच्छी बात यह है कि मानसून की रफ्तार इस बार तेज है. जिसके कारण हरियाणा में प्री मानसून की बारिश 20 जून के आसपास देखने को मिल सकती है. वहीं प्रदेश में 28 जून से जुलाई के पहले सप्ताह तक के मानसून कभी भी दाखिल हो सकता है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like