home page

घर में लगा ले यह पौधा, हाई ब्लड प्रेशर में भी है कारगर

Civilization and Culture : आयुर्वेद भारतीय सभ्यता और संस्कृति में बहुत महत्वपूर्ण है। यही कारण है कि आयुर्वेद में लोगों, पशुओं और पक्षियों का इलाज सदियों से चल रहा है। इस आयुर्वेद में जड़ी-बूटी और पौधे सबसे विशिष्ट हैं।

 | 
Plant this plant at home, it is also effective in high blood pressure

Ayurveda Indian Civilization and Culture : आयुर्वेद भारतीय सभ्यता और संस्कृति में बहुत महत्वपूर्ण है। यही कारण है कि आयुर्वेद में लोगों, पशुओं और पक्षियों का इलाज सदियों से चल रहा है। इस आयुर्वेद में जड़ी-बूटी और पौधे सबसे विशिष्ट हैं। इसमें एक पौधा सर्पगंधा है। इसकी विशिष्टता ही है। इससे आपके आस-पास सांप नहीं भटकेंगे। दरभंगा आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ.शंभू शरण ने इस पर विशेष जानकारी दी। उनका कहना था कि हाई ब्लड प्रेशर वाले लोग भी सर्पगंधा का उपयोग कर सकते हैं। यह बहुत अच्छा है। लोगों को भी इसका पौधा आसपास लगाना चाहिए ताकि वातावरण स्वच्छ रहे।

आपके आस-पास कोई सांप नहीं फटकेगा

सर्पगंधा के जानकार ओमप्रकाश राठौर, जो इसे अपने गार्डेन में लगाते हैं, बताते हैं कि सर्पगंधा नमक के पौधे में कई विशेषताएं हैं। पहले, यह आपके गार्डन का सौंदर्य बढ़ा देगा। इसके पौधे को लगाने के बाद आपको सांपों से डर लगेगा। इस पेड़ की जड़ों और सुगंधित जड़ों से आपके घर में सांप भी नहीं घूमेगा। जड़ी बूटी अक्सर सर्पगंधा का पौधा से बनाई जाती है। यह भी सांपों का जहर निकाल सकता है। इसके लिए सिर्फ ज्ञान और बुद्धि होनी चाहिए।

इसी से नेवला जीवित रहता है

ओमप्रकाश राठौर ने बताया कि उन्होंने अपने गार्डन में एक सर्पगंधा का पेड़ लगाया है। क्योंकि इसका पेड़ लगाने से सांपों को डर नहीं लगता इस पेड़ और जर की गंध जितना दूर चली जाएगी, सांप उतने ही दूर चले जाएंगे। माना जाता है कि जब नेवला सांपों से लड़ने जाता है और सांप उसे जख्मी कर देता है, तो नेवला भी इसी पौधे को देखता है ताकि सांप के विष को निष्क्रिय कर सके। पत्तियों को चूसता है। जिससे उसका विष नेवला को प्रभावित नहीं करता।

ये पढ़ें : UP News : 100 करोड़ की लागत से उत्तर प्रदेश के इस शहर में बनेगी 10 सड़कें, सफर होगा आसान

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like