home page

Jewar Greenfield Expressway : इस ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे पर सफर का लगेगा टैक्स, एंट्री पॉइंट से थोड़ी दूर होगा टोल प्लाजा

Greenfield Expressway :राहगीरों को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को फरीदाबाद से जोड़ने वाली 31 किमी ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे पर चलने पर टैक्स देना होगा। नैशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने इसके प्रारंभिक स्थान से लगभग 4.2 किलोमीटर दूर टोल प्लाजा बनाने का निर्णय लिया है।
 | 
Jewar Greenfield Expressway: Travel tax will be charged on this Greenfield Expressway, toll plaza will be a little away from the entry point.

Saral Kisan : फरीदाबाद से जेवर एयरपोर्ट को जोड़ने वाले ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे पर 31 किलोमीटर की दूरी पर टैक्स देना होगा। टोल प्लाज़ा सेक्टर-65 में एंट्री पॉइंट से 4.2 किमी दूर बनेगा। ऐसे में सोतई और दयालपुर के आसपास टोल प्लाज़ा बनाने की संभावना है।

सेक्टर-65 में है एंट्री पॉइंट, सोतई व दयालपुर के आसपास बन सकता है टोल प्लाज़ा

राहगीरों को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को फरीदाबाद से जोड़ने वाली 31 किमी ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे पर चलने पर टैक्स देना होगा। नैशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने इसके प्रारंभिक स्थान से लगभग 4.2 किलोमीटर दूर टोल प्लाजा बनाने का निर्णय लिया है। टोल सोतई और दयालपुर के आसपास हो सकता है। फिलहाल राजमार्ग का निर्माण कार्य जारी है। हालाँकि, ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य विभिन्न स्थानों पर तेजी से चल रहा है। आनेवाले दिनों में काम तेज होगा।

ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे बनने से फरीदाबादवासी यूपी के जेवर में बन रहे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट तक 20 से 25 मिनट में पहुंच सकेंगे। यह राजमार्ग फरीदाबाद में सेक्टर-65 के पास दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे लिंक रोड से शुरू होता है और 12 गांवों से होते हुए उत्तर प्रदेश में पहुंचेगा। यह लगभग ३१ किलोमीटर का होगा। 7 किलोमीटर यूपी की सीमा पर है और 24 किलोमीटर हरियाणा में बनेगा।

कहाँ टोल प्लाजा बनाया जाएगा?

यह टोल प्लाजा रोड के प्रारंभिक स्थान से लगभग 4.2 किलोमीटर दूर बनाया जाना है। इसलिए इसका स्थान गांव सोतई और दयालपुर के आसपास हो सकता है। हाइवे सिक्स लेन है, लेकिन टोल प्लाजा के पास एक और लेन बनाई जाएगी। टोल मूल्य क्या होगा? एक्सप्रेसवे बनाने के बाद यह तय होगा।

प्रॉजेक्ट अपडेट

फिलहाल, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे लिंक रोड को सेक्टर-65 में फरीदाबाद में ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे से जोड़ने के लिए एक इंटरचेंज बनाया जा रहा है। यहाँ पिलर दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे लिंक रोड के बीच में खड़े किए जा रहे हैं। इसके अलावा, आईएमटी की ओर जाने वाली सड़क पर दो अंडरपास और उसके किनारे पिलर बनाए जाएंगे।

ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे क्षेत्र में सड़क को एलिवेटेड बनाया जाएगा

गौरतलब है कि मास्टर प्लान के अंतर्गत ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे क्षेत्र में सड़क को एलिवेटेड बनाया जाएगा। उससे आगे पुस्ता बनाकर सड़क बनाई जाएगी। अंडरपास गांवों को आपस में जोड़ने वाली सड़कों और खेतों को जाने वाली सड़कों पर बनाए जाएंगे। अंडरपास सड़कों का निर्माण गांव महमदपुर, नरहावली और हीरापुर के पास चल रहा है। अंडरपास अंतिम है। इसके साथ ही जमीन समतल हो जाती है।

डिप्टी सीएम ने विधानसभा में बताई डेडलाइन

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने हाल ही में विधानसभा में एक सवाल के जवाब में कहा कि परियोजना 20 जून 2025 तक पूरी हो जाएगी। फरीदाबाद के एनआईटी से विधायक नीरज शर्मा ने लिखित जानकारी दी थी। उसने यह भी कहा कि मोहना गांव में केजीपी से जुड़ने के लिए एक इंटरचेंज भी बनाया जाएगा। यूपी-हरियाणा बॉर्डर के निकट मोहना-बागपुर-फलैंदा रोड पर एंट्री-एग्जिट रैंप बनाया जाएगा। इससे दोनों राज्यों में आने-जाने की सुविधा होगी।

ये पढ़ें : UP News : 100 करोड़ की लागत से उत्तर प्रदेश के इस शहर में बनेगी 10 सड़कें, सफर होगा आसान

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like