home page

Rajasthan में करीब 2 हजार हेक्टेयर भूमि पर अतिक्रमण, अब गरज रहा सरकार का बुलडोजर

Rajasthan News :राजस्थान के इस जिले में 3 साल पहले दायर की याचिका का हाई कोर्ट ने सुनाया फैसला, प्रदेश के इस जिले की 2000 हेक्टेयर भूमि से हटेगा अतिक्रमण, भूमि को करवाया जाएगा वह माफिया से मुक्त।

 | 
Rajasthan में करीब 2 हजार हेक्टेयर भूमि पर अतिक्रमण, अब गरज रहा सरकार का बुलडोजर

Rajasthan News : राजस्थान के जोधपुर जिले के मगजी की घाटी में वन विभाग की तकरीबन 2000 हेक्टेयर जमीन पर कब्जा है, 3 साल पहले वर्ष 2021 में पर्यावरण विद् रामजी व्यास ने हाई कोर्ट में याचिका दर्ज की थी, 3 साल बाद हाई कोर्ट के द्वारा फैसला सुनाने के बाद जिला कलेक्टर, वन विभाग के अधिकारी, पुलिस कर्मचारी और जोधपुर विकास प्राधिकरण की टीम मौके पर जाएगा लेने पहुंची, अधिकारियों ने जायजा लेकर आगामी कार्रवाई शुरू की।

जोधपुर नगर निगम की टीम के द्वारा कार्रवाई शुरू करने से पहले भारी संख्या में लोग वहां पहुंचे और नारा लगाकर विरोध पर दर्शन करने लगे, इलाके के लोगों को कब शुरू ने समझाने की कोशिश की परंतु विरोध बढ़ता ही गया, विरोध इतना बढ़ गया कि हालात तनावपूर्ण हो गए थे, लोगों को शांत करने के लिए वन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि अभी सिर्फ बड़े हटाए जाएंगे किसी का घर नहीं।

जिला प्रभागीय वन अधिकारी  मोहित गुप्ता ने बताया कि वन विभाग पहले चरण में सिर्फ बड़े की दीवारें हटाएगा। आगामी कार्रवाई बाद में की जाएगी, अधिकारियों की टीम कार्रवाई के दौरान जेसीबी से कुछ बालों की दीवार गिराकर वापस लौट आई।

2.5 हेक्टेयर जमीन से हटाए कब्जा

जिला प्रशासन के मुताबिक बेरी गंगा वन विभाग क्षेत्र के मगजी की घाटी  मैं 14 पक्के बड़ी और आठ कच्चे बड़ों से भूमाफियाओं द्वारा किए गए कब्जे को हटा दिया गया। 

वर्ष 2021 में किया गया था कोर्ट में केस

पर्यावरण रक्षण रामजी व्यास ने साल 2021 में हाईकोर्ट में कब्जा हुई भूमि के लिए याचिका दायर की थी। लगाई गई याचिका में बताया कि मगजी की घाटी बेरी गंगा में तकरीबन 2000 हेक्टेयर जमीन पर भूमाफिया द्वारा कब्जा कर लिया गया है, उन्होंने बताया कि यहां पर 3 से 4 हजार मकान बन चुके हैं और लोगों के पानी तथा बिजली के कनेक्शन भी हो चुके हैं। हालांकि यह जगह सुरक्षित वन क्षेत्र है 1980 केवल संरक्षण अधिनियम की अवहेलना की जा रही है। किसी भी वन्य विभाग की भूमि को सामान्य जमीन में राज्य सरकार कन्वर्ट नहीं कर सकती।

इलाके के लोग बोले हमें परेशान किया जा रहा है

इलाके में रहने वाले लोगों ने कहा कि उन्हें बिना बात के परेशान किया जा रहा है, सरकार हर बार इसी इलाके में आकर कब्जा हटाने के लिए बोल रही है,  हालांकि निचली बस्ती में रहने वाले लोगों को नहीं हटाया जाता

हाई कोर्ट के सामने दूसरा पक्ष भी रखें

बेरी गंगा के स्थानीय भाजपा नेता हनुमान सिंह खांगटा मौके पर पहुंचे, हनुमान सिंह खांगटा ने बताया कि इस भूमि के बदले फलोदी में वन विभाग को जमीन दी गई है। इस जमीन के डायवर्जन के लिए बात चल रही है, अधिकारी इस बात को हाई कोर्ट के सामने रखें

सुबह से ऐसे चली कारवाई 

7: 30 बजे पहुंचे अधिकारी
8: 00 बजे मौके पर पहुंचा पूरा जाब्ता
8: 10 बजे विरोध शुरू
8: 30 बजे तक चली समझाइश
8: 30 बजे से फिर विरोध शुरू
9: 30 बजे तक चला विरोध
9: 30 बजे शुरू की कार्रवाई
12: 30 बजे कार्रवाई खत्म

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like