home page

Delhi NCR के रैपिडेक्स कॉरिडोर में बदलाव, अब होगा यह नया रूट

Delhi-Haryana RapidX : दिल्ली एनसीआर के रैपिडेक्स कॉरिडोर रूट में बड़ा बदलाव किया गया है। इस नए रूट के तैयार होने पर अब पहले से सफर और आसान हो जाएगा। आइए नीचे खबर में जानते हैं कहां से होकर गुजरेगा नया रूट..
 | 
Changes in Rapidex Corridor of Delhi NCR, now this will be the new route

Saral Kisan, Delhi : प्रस्तावित दिल्ली-हरियाणा रैपिडेक्स कॉरिडोर में बदलाव किया गया है। अब यह लाइन गुरुग्राम के साइबर हब, राजीव चौक, हीरो होंडा चौक और खेड़की दौला स्टेशन के साथ पूरा गुरुग्राम एक्सप्रेसवे (NH-8) एक्सटेंशन से होकर गुजरेगा। इससे पहले कॉरिडोर का अलाइनमेंट पुरानी दिल्ली-गुरुग्राम रोड से होकर जा रहा था। यहां रैपिडेक्स ट्रैक केवल सिग्नेचर टावर्स पर एनएच-8 पर मिलता था। नई योजना में रैपिडएक्स कॉरिडोर एयरोसिटी से गुरुग्राम से प्रवेश करेगा, इसमें साइबर हब गुरुग्राम का पहला स्टेशन होगा। हालाँकि, इसके लिए एक नई डीपीआर की बनाने की आवश्यकता पड़ेगी, जिससे इस परियोजना में काफी समय लग सकता है।

नई योजना के मुताबिक, रैपिडएक्स ट्रैक दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेसवे के किनारे एयरोसिटी से साइबर हब होकर गुजरेगा। साइबर हब से यह एक्सप्रेसवे के दूसरी तरफ खेड़की दौला तक शिफ्ट हो जाएगा, जहां तीन लेवल का अंडरग्राउंड स्टेशन बनाया जाएगा। इसके अगले तीन स्टेशन - मानेसर, पचगांव और धारूहेड़ा - अंडरग्राउंड होंगे। ट्रैक पिछली योजना से अलग, धारूहेड़ा में समाप्त होगा। इसमें 107 किमी लंबा गलियारा राजस्थान में शाहजहाँपुरनीमराना-बहरोर में खत्म हो रहा था। इससे कॉरिडोर लगभग 80 किमी छोटा हो जाएगा, जिसमें से 60 किमी हरियाणा के गुड़गांव और रेवाड़ी जिलों में होगा। साइबर हब, राजीव चौक, हीरो होंडा चौक और खेड़की दौला स्टेशन अंडरग्राउंड होंगे।

पहले रैपिडेक्स का रूट एयरोसिटी से कापसहेड़ा सीमा तक और आगे पुरानी दिल्ली-गुड़गांव रोड के माध्यम से अतुल कटारिया चौक तक था। खेड़की दौला तक पहुंचने के लिए सिग्नेचर टावर्स और राजीव चौक को पार करने का प्रस्ताव था। बता दें कि रैपिडेक्स कॉरिडोर के दिल्ली वाला हिस्से में कोई बदलाव नहीं किया गया है। यहां रैपिडेक्स सराय काले खां से शुरू होकर,  जोर बाग और मुनिरका के माध्यम से एयरोसिटी तक पहुंचेंगी। बता दें कि रैपिडेक्स का पूरा दिल्ली सेक्शन अंडरग्राउंड होगा।

परिवहन मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि यह गलियारा साइबर सिटी क्षेत्र में काम करने वाले बड़ी संख्या में ऑफिस जाने वालों की जरूरतों को पूरा करेगा। रैपिडएक्स कॉरिडोर का निर्माण कर रही एनसीआरटीसी नई डीपीआर तैयार कर रही है। इसी साल जुलाई में सीएम मनोहर लाल खट्टर ने दिल्ली-गुड़गांव एसएनबी और दिल्ली-सोनीपत रूट पर काम में देरी के लिए दिल्ली सरकार को जिम्मेदार ठहराया था। खट्टर ने आरोप लगाया था कि दिल्ली सरकार इन दोनों रास्तों में बाधाएं पैदा कर रही है। अब दिल्ली-हरियाणा रैपिडएक्स लाइन एयरोसिटी से गुड़गांव में प्रवेश करेगी.

ये पढ़ें : Delhi Meerut Rapid Rail : रैपिडएक्स कॉरिडोर से जोड़े जाएंगे यूपी के ये 3 जिले, प्लान हुआ तैयार

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like