home page

Delhi Metro : NCR के इन दो शहरों में बिछाई जाएगी 32 KM नई लाइन, बनेगें 12 स्टेशन

Faridabad Gurugram New Metro line :नए वर्ष पर फरीदाबाद स्मार्ट सिटी को मेट्रो की सौगात मिलने वाली है। वास्तव में, राज्य सरकार NCR के दो शहरों को मेट्रो से जोड़ने की योजना बना रही है। 32 किलोमीटर की नई मेट्रो लाइन दोनों शहरों को जोड़ेगी। 

 | 
Delhi Metro: 32 KM new line will be laid in these two cities of NCR, 12 stations will be built.

Saral Kisan : फरीदाबाद स्मार्ट सिटी के नागरिकों को नए वर्ष में गुरुग्राम और फरीदाबाद के बीच मेट्रो रेल सेवा शुरू होने की उम्मीद है। प्रदेश सरकार के अगले वर्ष के बजट में मेट्रो रेल को धन देने की उम्मीद है। लेकिन फिलहाल डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तक ही सीमित है। जबकि लोग इस मेट्रो रेल परियोजना के शुरू होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। 2014 में, मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोशल मीडिया पर फरीदाबाद-गुरुग्राम को मेट्रो रेल से जोड़ने की घोषणा की

2015 में मुख्यमंत्री ने भी इसकी औपचारिक घोषणा की थी। 2018 के लोकसभा चुनाव से पहले, केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने एक प्रेस वार्ता में कहा कि 2021 में मेट्रो रेल सेवा शुरू होगी। लेकिन वर्ष 2023 भी जनप्रतिनिधियों के कई दावों के बीच गुजरने वाला है। इसके बाद से अभी तक मेट्रो रेल सेवा शुरू करने के लिए बजट भी नहीं बनाया जा सका है। इसलिए मेट्रो रेल की योजना अधूरी रह गई है।

32.14 किलोमीटर है मेट्रो रूट की लंबाई 

वर्तमान सूचनाओं के अनुसार, फरीदाबाद-गुरुग्राम मेट्रो रूट 32.14 किलोमीटर है। इस मार्ग पर बारह मेट्रो रेल स्टेशन बनाने की योजना है। बाटा चौक से गुरुग्राम की मेट्रो रेल सेवा यहीं से शुरू होगी। इनमें फरीदाबाद और गुरुग्राम की सीमा पर छह मेट्रो रेल स्टेशन बनाए जाएंगे। अगले वर्ष, लोगों की उम्मीदों को देखते हुए सरकार मेट्रो रेल के लिए बजट देगी। उधर, सरकार ने पलवल और बल्लभगढ़ के बीच मेट्रो रेल का सर्वे भी कराया है। अगले वर्ष भी इस मेट्रो रेल का सर्वे पूरा हो जाएगा।

स्मार्ट सिटी का इन पांच उम्मीदों से होगा कायाकल्प

गुरुग्राम-फरीदाबाद मेट्रो रेल की शुरुआत से संपत्ति कारोबार बढ़ने की उम्मीद है, मेट्रो रेल से गुरुग्राम रूट पर वाहनों की संख्या कम होने की उम्मीद है, और अगले साल तुगलकाबाद रूट को गुरुग्राम मेट्रो से जोड़ने से प्रदूषण कम होगा, पलवल मेट्रो से शहर के विकास को गति मिलेगी

यह हैं पांच चुनौतियां

मेट्रो रेल फीडर बस सेवा को चलाने की चुनौती है, गुरुग्राम मेट्रो रूट को पूरे शहर से जोड़ने की चुनौती है, और ग्रेटर फरीदाबाद को मेट्रो रेल से जोड़ना भी महत्वपूर्ण है. पलवल मेट्रो रेल का काम शुरू करना भी एक बड़ी चुनौती है।

कारोबार में तेजी आएगी

एक दिन में गुरुग्राम और फरीदाबाद के बीच एक लाख से अधिक वाहन गुजरते हैं। यही कारण है कि स्थानीय लोग मेट्रो रेल की मांग कर रहे हैं। फरीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष राज भाटिया ने कहा कि फरीदाबाद से गुरुग्राम तक एक मेट्रो रेल सेवा शुरू होनी चाहिए। दोनों शहर गुरुग्राम-फरीदाबाद मेट्रो रेल से जुड़ जाएंगे। दोनों शहर के बीच व्यापार भी तेज होगा।

ग्रेटर फरीदाबाद के लिए भी मेट्रो चलाने की मांग

2015 में ग्रेटर फरीदाबाद को मेट्रो रेल से जोड़ने का भी सर्वे हुआ था। लेकिन यह प्रस्ताव अस्वीकार कर दिया गया है। इंडस्ट्रियल मॉडल टाउनशिप (आईएमटी) के उद्यमी ने मेट्रो रेल को आईएमटी से जोड़ने की मांग भी की है। इलीट प्राइम सोसाइटी सेक्टर-84 के प्रधान अवनींद्र तिवारी ने कहा कि ग्रेटर फरीदाबाद को मेट्रो रेल से जोड़ना चाहिए। यहां लाखों लोग इससे लाभ उठाएंगे।

ये पढ़ें : उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने जनता को दी सौगात, रोडवेज बसों में इन लोगों का नहीं लगेगा किराया

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like