home page

बिहार के किसानों की बल्ले बल्ले, इस खेती पर सरकार दे रही 50 प्रतिशत सब्सिडी

Bihar सरकार ने अपने किसानों के लिए एक विशिष्ट योजना शुरू की है. अगर आपको इस योजना की प्रारंभिक जानकारी चाहिए, तो यह खबर आपके लिए बहुत अच्छी है. हम आपको बिहार सरकार की 50 प्रतिशत सब्सिडी वाली खेती के बारे में बताने जा रहे हैं।
 | 
The farmers of Bihar are struggling, the government is giving 50 percent subsidy on this farming.

Saral Kisan, Bihar: बिहार सरकार भी किसानों की आय बढ़ाने की कई योजनाओं में शामिल है। किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार ने एक कार्यक्रम बनाया है। बिहार सरकार चाय उत्पादक किसानों को चाय की खेती पर सब्सिडी, या चाय विकास योजना, दे रही है। यह योजना पहले से ही कार्यान्वित हो चुकी है। इस योजना में चाय उत्पादक किसानों को 50% सब्सिडी दी जाएगी। यह सब्सिडी दो बार दी जाएगी: पहले वर्ष में लगाए गए पौधों के 90% जीवित रहने की स्थिति में, दूसरे वर्ष में प्रति हेक्टेयर 25% बारी दी जाएगी।

इसलिए सरकार ने यह योजना शुरू की है

चाय क्षेत्र के विस्तार के लिए 4.94 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर लागत निर्धारित की गई है, जिस पर किसानों को 50% (75:25) अनुदान मिलेगा। यही कारण है कि राज्य सरकार किसानों को 2.47 लाख रुपये की सब्सिडी देगी। चाय उत्पादन को बढ़ाना और किसानों को मदद करना यह योजना है।

आप इस तरह अप्लाई कर सकते हैं

‘चाय विकास योजना’ के लिए आवेदन ऑनलाइन हो चुके हैं। किशनगंज जिले के चाय उत्पादक इस कार्यक्रम का लाभ लेने के लिए बिहार सरकार के उद्यान निदेशालय (https://horticulture.bihar.gov.in) की वेबसाइट पर जा सकते हैं। वहां, आप "चाय विकास योजना" लिंक पर क्लिक करके आवश्यक विवरण भरकर आवेदन कर सकते हैं। अगर आप अधिक जानकारी चाहते हैं, तो आप संबंधित जिले के सहायक निदेशक उद्यान से संपर्क कर सकते हैं। अगर आपको चाय विकास योजना के बारे में कुछ प्रारंभिक जानकारी चाहिए, तो आप गूगल पर खोज कर सकते हैं। वहाँ पर्याप्त जानकारी है। आप भी अपडेट अपने नजदीकी साइबर कैफे में ले सकते हैं।

ये पढ़ें : उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने जनता को दी सौगात, रोडवेज बसों में इन लोगों का नहीं लगेगा किराया

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like