home page

उत्तर प्रदेश के इन बिजली उपभोक्ताओं पर 31 दिसंबर से शुरू होगी कार्रवाई, अबतक 3900 करोड़ वसूली

UP Update : उत्तर प्रदेश के बिजली अपभोक्ताओं के लिए एक बड़ा अपडेट सामने या गया है। दरअसल, ऊजा मंत्री ने बिजली बिल बकाया और चोरी करने वालों को 31 दिसंबर तक पैसा जमा करवाने का मौका दिया है। 31 दिसंबर के बाद बिजली बकाया और चोरी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं।
 | 
Action will start against these electricity consumers of Uttar Pradesh from December 31, Rs 3900 crore recovered so far

Saral Kisan, UP : ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने बताया कि 8 नवंबर से शुरू हुई ओटीएस योजना में 23 दिसंबर तक 37.60 लाख से ज्यादा उपभोक्ताओं ने 3900 करोड़ रुपये जमा किया है। यह योजना 31 दिसंबर तक ही चलेगी। इसके बाद बिजली बकाया वाले और चोरी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने शनिवार को जल निगम फील्ड हॉस्टल में ओटीएस योजना की प्रगति के बारे में जानकारी ली।

उन्होंने निर्देश दिया कि 31 दिसंबर के बाद बकाया वाले उपभोक्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की जाए। ऊर्जा मंत्री ने बताया कि योजना में 33.38 लाख घरेलू उपभोक्ताओं को लगभग 1041 करोड़ रुपए का लाभ मिला है। इनसे 3036 करोड़ रुपये का राजस्व मिला है। इसी तरह निजी नलकूप में 1.56 लाख किसानों को 113.46 करोड़ रुपए की छूट मिली और विभाग को 406 करोड़ रुपये का राजस्व मिला।

इसी प्रकार यह ऐसी पहली योजना है, जिसमें 76 हजार लोगों ने विद्युत् चोरी करने व आरसी जारी होने के मामलों में भी लाभ लिया और उन्हें 376 करोड़ रुपये की छूट मिली। एक किलोवाट तक भार वाले 33.38 लाख छोटे घरेलू उपभोक्ताओं ने लाभ लिया। इससे विभाग को 3036 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। 1.70 लाख वाणिज्यिक उपभोक्ताओं से 195 करोड़ रुपए राजस्व मिला।

छुट्टी के दिन भी खुलेगा कैश काउंटर

ऊर्जा विभाग की ओर से शुरू की गई एकमुश्त समाधान योजना को देखते हुए विभाग के सभी कार्यालय और कैश काउंटर छुट्टी के दिन भी खुले रहेंगे। ऐसे में 24 और 25 और 31 दिसंबर सभी उपकेंद्रों पर बिजली बिल जमा किया जा सकेगा। इस संबंध में पावर कारपोरेशन से सभी विद्युत वितरण निगमों के निर्देश जारी कर दिया गया है।

14 अवर अभियंताओं को प्रोन्नति दी गई

पावर कारपोरेशन अध्यक्ष डा. आशीष कुमार गोयल ने विभिन्न विद्युत वितरण निगमों में कार्यरत 14 अवर अभियंताओं को सहायक अभियंता के रूप में प्रोन्नति दी है। इन सभी को लखनऊ के सरोजनी नगर स्थित प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके बाद नए सिरे से तैनाती की जाएगी।

ये पढ़ें : UP News : उत्तर प्रदेश के इस जिले में मिलते हैं 300 में ब्रांडेड जैकेट व 200 में स्वेटर

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like