home page

AC की आउटडोर यूनिट पर छाया होनी चाहिए, लेकिन कंडेनसर में गर्मी निकलने की जगह होनी चाहिए

Ac In Summer :इस समय लोग भीषण गर्मी से बचने के लिए AC का सहारा ले रहे हैं, लेकिन कई बार उचित देखभाल के अभाव में ये हादसों का कारण बन जाते हैं। AC के अच्छे प्रदर्शन के लिए इसके कंडेनसर के आसपास का तापमान कम होना चाहिए।
 | 
AC की आउटडोर यूनिट पर छाया होनी चाहिए, लेकिन कंडेनसर में गर्मी निकलने की जगह होनी चाहिए

Ac In Summer : इस समय लोग भीषण गर्मी से बचने के लिए AC का सहारा ले रहे हैं, लेकिन कई बार उचित देखभाल के अभाव में ये हादसों का कारण बन जाते हैं। AC के अच्छे प्रदर्शन के लिए इसके कंडेनसर के आसपास का तापमान कम होना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि विंडो AC के बाहरी हिस्से और स्प्लिट एसी की बाहरी यूनिट को सीधी धूप से बचाया जाए। हालांकि, इसके लिए इसे इस तरह से कवर नहीं किया जाना चाहिए कि कंडेनसर से निकलने वाली गर्मी का रास्ता बंद हो जाए।

आमतौर पर एसी के कंडेनसर का तापमान 50 डिग्री सेल्सियस तक होता है। अगर इसकी गर्मी नहीं निकलेगी या इसके आसपास का तापमान बढ़ जाएगा तो न सिर्फ एसी काम करना बंद कर देगा

बल्कि इसके फटने की भी संभावना है।  कंडेनसर कॉइल पर धूल या गंदगी जमने पर गैस के प्रवाह में दिक्कत आती है और कंडेनसर गर्म होने लगता है। एसी की कूलिंग में कंडेनसर कॉइल अहम होते हैं। यह हवा से गर्मी बाहर निकालते हैं। गंदगी की वजह से जब कॉइल जाम हो जाती है तो गैस के सामान्य प्रवाह में दिक्कत आती है, इससे कंडेनसर गर्म होने लगता है और आग लगने का खतरा बढ़ जाता है। कंडेनसर से गैस लीक होने पर भी एसी की वजह से दुर्घटना होने की संभावना रहती है। लगातार वोल्टेज में उतार-चढ़ाव एसी के प्रदर्शन को प्रभावित करता है, जिससे दुर्घटना हो सकती है। इसलिए एसी को सही तरीके से चलाने के लिए उचित देखभाल जरूरी है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like