home page

नौकरी नहीं मिलने पर खरीदे गधे, एक लीटर दूध की कीमत जान उड़ जायेंगे होश

उन्होंने दूध बेचने का फैसला किया और दूध भी ऐसा जो 5 से 7 रुपए  किलो बिकता है। गधी का दूध बेचने का कारोबार शुरू करके उन्होंने 2.5 करोड़ का बिजनेस खड़ा कर दिया।
 | 
नौकरी नहीं मिलने पर खरीदे गधे, एक लीटर दूध की कीमत जान उड़ जायेंगे होश

Donkey Milk : गुजरात के लोगों ने बिजनेस करने में महारत हासिल कर रखी है। इस बात से कोई मना नहीं कर सकता कि वह लोग मिट्टी बेचकर भी पैसा कमा सकते हैं। आज हम बात कर रहे हैं पाटण जिले के रहने वाले धीरेन सोलंकी के बारे में।  जो सरकारी नौकरी के तलाश में घूमते रहे लेकिन नहीं मिलने के बाद उन्होंने अपना बिजनेस शुरू करने का प्लान बनाया। उन्होंने दूध बेचने का फैसला किया और दूध भी ऐसा जो 5 से 7 रुपए  किलो बिकता है। गधी का दूध बेचने का कारोबार शुरू करके उन्होंने 2.5 करोड़ का बिजनेस खड़ा कर दिया।

नौकरी न मिल पर खरीदे गधे 

धीरेन पढ़ाई करने के बाद नौकरी की तलाश में कई जगह इंटरव्यू देने गए, लेकिन उन्हें मनचाही नौकरी नहीं मिल पाई। वह बताते हैं कि इतनी कम सैलरी में वह अपना खर्च भी नहीं निकाल सकते थे। ऐसे में धीरेन ने सरकार से लोन लेकर और अपनी सेविंग के पैसे लगाकर गधे खरीद लिए। धीरेंन ने सुन रखा था कि गधी का दूध काफी महंगा बिकता है। उन्होंने डंकी फार्मिंग के बारे में पूरी जानकारी लेने के बाद अपने गांव वकार 20 गधे खरीद लिए।

एक लीटर बिकता है 5 से 7 हजार

उन्होंने 22 लाख की लागत से बनाए गए फार्म हाउस में करीबन 43 मादा गधे पालना शुरू किया। शुरुआती दिनों में उन्हें कुछ खास मुनाफा नहीं दिखा, परंतु उन्होंने हार नहीं मानते हुए काम को जारी रखा। क्योंकि डंकी मिल्क और भैंस के मुकाबले बहुत महंगा बिकता है। जहां गाय भैंस का 60 से 65 रुपए किलो दूध मिल जाता है वही गधी का दूध 5000 रुपए लीटर से ऊपर बिकता है। डंकी मिल्क के चलते आज वह हर महीने तीन से चार लाख रुपए की कमाई करते हैं।

कहां बिकता है गधी का दूध 

धीरेन ने जानकारी देते हुए कहा कि गुजरात के साथ-साथ दक्षिण भारत में गधे के दूध की अधिक डिमांड रहती हैं। वह अपने प्रोडक्ट की ऑनलाइन सेल करते हैं और कर्नाटक केरल से उन्हें भरपूर आर्डर मिल रहे हैं। लोग पर्सनल यूज के साथ साथ कॉस्मेटिक कंपनी भी गधी के दूध की खरीद करती है। डंकी मिल्क के पाउडर की भी डिमांड भारी मात्रा में रहती है। 1 किलोग्राम पाउडर मिल्क की कीमत करीबन 1 लाख रुपए के पास चली जाती है।

कहां होता है प्रयोग

गधी के दूध में प्रोटीन और फैट कम होने के कारण और लेक्टोज अधिक होने की वजह से यह आम दूध के मुकाबले अधिक फायदेमंद होता है। इसका प्रयोग कॉस्मेटिक और फार्मास्यूटिकल प्रोडक्ट्स में ज्यादा होता है। इसी वजह से इसकी डिमांड हमेशा बनी रहती हैं।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like