home page

बिहार में जल्द जारी होगा बारिश का सिलसिला, टूट सकता है दो दशक का रिकॉर्ड?

बिहार में भीषण गर्मी ने लोगों के पसीने छुड़ा रखे हैं। मौसम विभाग के अनुसार बिहार में जल्द ही मानसून एंट्री लेने वाला है।

 | 
बिहार में जल्द जारी होगा बारिश का सिलसिला, टूट सकता है दो दशक का रिकॉर्ड?

Monsoon 2024 : बिहार में लोगों का गर्मी से बुरा हाल है और लोग बारिश का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। मौसम विभाग के अनुसार इस बार मानसून की बारिश बिहार में 2 दशकों का रिकॉर्ड तोड़ सकती है। बिहार में साल 2004 से 2023 के दौरान साल 2007 में सबसे अधिक बारिश करीबन 30% हुई थी। मौसम विभाग के माने तो इस साल ला नीना का प्रभाव और अंडमान निकोबार में समय से पहले मानसून आने के कारण राज्य में सामान्य से अधिक बारिश का अनुमान है।

बिहार में बीते दो वर्षों में मानसून की बारिश सामान्य से भी 23% तक कम हुई है। जिसके चलते राज्य का अधिकतर हिस्सा सूखे की चपेट में आ चुका है। लोगों को चिल्लाती गर्मी ने परेशान कर रखा है। जैसा कि हम जानते हैं पिछले साल राज्य में 29 जिलों मैं मानसून की बारिश कम हुई और आठ जिलों में अच्छी बारिश हुई।

ला नीना और अल नीनो का असर

प्रशांत महासागर के तापमान को तीन हिस्सों में बांटा गया है। पहला फेज नेचुरल होता है, जहां समुंद्र का सामान्य तापमान 05 से - 0.5 तक होता है। दूसरा फेज अल नीनो होता है जहां तापमान 0.5 से ज्यादा गरम होता है और तीसरा फेज ला नीनो होता है जहां समुंद्र का तापमान 0.5 से अधिक ठंडा होता है। जब अल नीनो का प्रभाव पड़ता है तो बारिश दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप के रास्ते पेरू और ब्राजील की तरफ शिफ्ट हो जाती है। इसी के चलते भारत में कम बारिश देखने को मिलती है। वही ला नीना ठंडा होने की वजह से मानसून का रुख भारत की ओर हो जाता है। जिससे अच्छी बारिश देखने को मिलती है।

मौसम विभाग के अनुसार बीते दो दशकों में राज्य में समय से पहले 2006 में मानसून आई थी। वही सबसे देरी से 2018 में आई थी। 2006 में मानसून प्रवेश करने के निर्धारित तारीख 10 जून थी, लेकिन निर्धारित समय से 3 दिन पहले 6 जून को ही प्रवेश कर लिया था। 2018 में मानसून ने निर्धारित समय से 14 दिन लेट आई थी। बिहार में मानसून का 25 जून को प्रवेश हुआ था।

इन जिलों में हुई अच्छी बारिश

2023 में मानसून की बारिश बिहार के आठ जिलों में सामान्य से अधिक हुई थी। जिनमें से भागलपुर, जमुई, कटिहार, खगड़िया, लखीसराय, मुंगेर, समस्तीपुर, शेखपुरा जिला है। बाकी बचे जिलों में सामान्य से कम बारिश देखने को मिली।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like