home page

Bihar में ये 129 किलोमीटर का रेल रूट बन रहा डबल पटरी, जल्द ही ट्रैक पर शुरू होगा ट्रेनों का संचालन

Kiul Gaya Rail Route : बिहार के इस जिले को मिली 129 किलोमीटर लंबी रेल लाइन की सौगात। 2024 तक पूरी कर ली जाएगी कार्य प्रणाली। इस किलोमीटर लंबी रेल लाइन के लाइन का होगा दोहरीकरण।

 | 
Bihar में ये 129 किलोमीटर का रेल रूट बन रहा डबल पटरी, जल्द ही ट्रैक पर शुरू होगा ट्रेनों का संचालन

Kiul Gaya Rail Route : भारतीय रेलवे अपने यात्रियों को  एक से बढ़कर एक सुविधा दे रहा है। भारतीय रेलवे अपने हर एक स्टेशन को साफ सुथरा रखता है। यात्रियों के लिए सुविधाओं की लगातार बढ़ोतरी होने से यात्रियों को सफर करने में कोई परेशानी नहीं होगी, रेलवे विभाग द्वारा दोहरी पटरी पर भी ट्रेनों का परिचालन भी शुरू करने की तैयारी चल रही है।

किउल-गया रेल खंड पर ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को जल्दी ही हो जाएगी आसानी। बता दें इस रेलखंड पर 129 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिहार के मानपुर से लखीसराय स्टेशन तक के दोहरीकरण का काम  पूरा जोरों शोरों से चल रहा है, चालू वर्ष के अंतिम माह तक  दूरी कारण के कार्य प्रणाली को पूरा कर लिया जाएगा। दोहरीकरण कार्य पूरा होने के बाद ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों की सुविधा में बढ़ोतरी हो जाएगी।

10 जून को दोनों पटरी पर स्पीड ट्रायल की संभावना
 
वारिसलीगंज से नवादा स्टेशन के बीच आगामी 10 जून को दोहरी पटरी पर ट्रेनों का स्पीड ट्रायल होने की संभावना है। अगर स्पीड ट्रायल होने के बाद सबकुछ ठीक-ठाक रहा तो दोहरी पटरी से ट्रेनें दौड़ने लगेगी। रेलवे के अधिकारियों के अनुसार वारिसलीगंज से नवादा स्टेशन तक दोहरीकरण कार्य पूरा कर लिया गया है।

नन-इंटरलाकिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। नन-इंटीलाकिंग कार्य पूरा होने के बाद ट्रेनों का स्पीड ट्रायल किया जाएगा। इसके बाद वरीय अधिकारियों के आदेश बाद दोहरी पटरी से ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।

नए स्टेशन पर ट्रेनों का होने लगेगा ठहराव

स्पीड ट्रायल के बाद नवदा स्टेशन तक दोहरी पटरी पर से ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के साथ नवादा के नए स्टेशन पर ट्रेनों का ठहराव शुरू हो जाएगा। नए स्टेशन पर दो नंबर प्लेटफार्म का कार्य पूरा कर लिया गया है। इसी प्लेटफार्म पर ट्रेनें रूकेंगी। इसके बाद एक नंबर प्लेटफार्म का बाकी बचा काम को पूरा किया जाएगा।

मात्र 18 किमी. दोहरीकरण कार्य होना शेष

रेलवे विभाग नवादा के यातायात निरीक्षक राजेश कुमार सिन्हा ने बताया कि किउल-गया रेलखंड पर वर्तमान में 37 किमी.दोहरीकरण कार्य होना बाकी था। जिसमें वारिसलीगंज से नवादा स्टेशन तक 19 किमी दोहरीकरण कार्य पूरा हो चुका है।

संभावित 10 जून से वारिसलीगंज से नवादा स्टेशन तक दोहरी पटरी से परिचालन शुरू हो जाएगा। इसके बाद नवादा से तिलैया स्टेशन तक मात्र 18 किमी.तक दोहरीकरण होना शेष रह जाएगा। संभावना है कि वर्ष 2024 के अंतिम माह तक दोहरीकरण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। दोहरीकरण काफी तेज गति से चल रहा है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like