home page

Noida में नहीं रहेगा अब बिजली संकट, हर सोसाइटी के लिए नई प्लानिंग

Bijli Cut :पुरे उत्तर भारत में पढ़ रही प्रचंड गर्मी, बिशन गर्मी से लोगों का हो रहा बुरा हाल, बिजली सप्लाई हो रही बाधित। बार-बार कट लगने से गर्मी में लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है, गहराया हुआ है बिजली संकट।

 | 
Noida में नहीं रहेगा अब बिजली संकट, हर सोसाइटी के लिए नई प्लानिंग

Noida Power Supply : उत्तर प्रदेश में पढ़ रही भयंकर गर्मी से लोगों का हुआ बुरा हाल, यूपी में गहराया बिजली संकट, विद्युत सप्लाई उपकरण बार-बार हो रहे फेल, लोगों की परेशानी देखते हुए उत्तर प्रदेश के नोएडा में बिजली संकट दूर करने के लिए बिजली विभाग ने लिया संज्ञान, नोएडा की 14 सोसाइटी में जांच कर बिजली विभाग दूर करेगा विद्युत संकट।

नोएडा पावर कंपनी लिमिटेड की टीम इन सोसाइटियों में अलग-अलग तरीके से करेगी जांच, नोएडा विद्युत विभाग के द्वारा सोसाइटियों की सूची तैयार कर ली गई है। क्योंकि गर्मी में पिछले 20 दिनों से बिजली संकट के कारण लोगों का बुरा हाल है। अकेले नोएडा ही नहीं बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश में बिजली संकट घर आया हुआ है, परंतु शब्द से ज्यादा दिक्कत उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा की सोसाइटियों में हो रही है। बिल्डिंगों में आंतरिक ढांचे की वजह से विद्युत सप्लाई में अधिक दिक्कत हो रही है। विद्युत सप्लाई की परेशानी से लोग नाराज होकर  सड़कों पर उतरकर कर रहे प्रदर्शन। इसको ध्यान में रखते हुए नोएडा पावर कारपोरेशन लिमिटेड ने  बिल्डिंग के ओनर द्वारा प्यार किए गए आंतरिक ढांचे का निरीक्षण करने का निर्णय लिया है।

पहले चरण में ग्रेटर नोएडा वेस्ट की 14 सोसाइटियों को इसके लिए चिह्नित किया गया है, जहां इस सप्ताह विशेषज्ञों की टीम मौके पर जाकर व्यवस्था को परखेगी। चरणबद्ध तरीके से सभी सोसाइटियों के आंतरिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निरीक्षण किया जाएगा। खराब इंफ्रास्ट्रक्चर की वजह से पंचशील हाइनीज, सुपरटेक इको विलेज और वेदांतम सोसाइटी में बिजली संकट सबसे अधिक है। सुपरटेक इको विलेज और पंचशील हाइनीज का निरीक्षण किया जा चुका है। निरीक्षण में जिन सोसाइटियों में कमी पाई जा रही है, उसमें सुधार के लिए बिल्डर प्रबंधन को नोटिस जारी किया जा रहा है। साथ ही, इस नोटिस को जिला प्रशासन, प्राधिकरण और उर्जा मंत्री से लेकर सीएम को टैग किया जा रहा, ताकि शासन-प्रशासन से लेकर आमजन को सच्चाई मालूम हो सके।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित रेडिकॉन वेदांतम सोसाइटी में तीन दिन तक बिजली आपूर्ति बाधित रही। लोड अधिक होने की वजह से शनिवार रात जनरेटर सेट बंद हो गया। आनन-फानन में दूसरा जनरेटर सेट मंगाना पड़ा। वेदांतम सोसाइटी में शुक्रवार तड़के चार बजे मेन रिंग यूनिट यूनिट में ब्लास्ट होने से बिजली आपूर्ति बाधित हो गई थी। बिल्डर प्रबंधन द्वारा उपकरण उपलब्ध कराए जाने पर एनपीसीएल के इंजीनियर मरम्मत कार्य में जुटे हुए हैं। यदि सब कुछ ठीकठाक रहा तो रात तक एनपीसीएल की आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

इस हफ्ते इनका निरीक्षण किया जाएगा

नोएडा पावर कारपोरेशन लिमिटेड के वाइस प्रेसिडेंट एसएन गांगुली ने कहा,  नोएडा विधुत विभाग की टीम इस सप्ताह जीसी-7 गौर सिटी, ऐस एस्पायर, लॉ सलोरा, पंचशील हाइनीज, निराला एस्पयार, पंचशील ग्रीन, पार्क एवेन्यू, स्काई गार्डन, 11वें एवेन्यू, जीसी-2, अरिहंत अंबर सेक्टर-1, ऐस डिवाइन, सुपरटेक इको विलेज-1, एकेए ग्रीन आर्च और फ्यूजन होम्स सोसाइटी का निरीक्षण करेगी।

सोसाइटियों के बिजली ढांचे की जांच की जाएगी। इसके लिए प्रथम चरण में 14 सोसाइटियों को चिह्नित किया गया है। खामियां मिलने पर बिल्डर को नोटिस जारी ढांचे को दुरुस्त करने के निर्देश दिए जाएंगे।

सुपरटेक इको विलेज को नोटिस भेजा

नोएडा पावर कारपोरेशन लिमिटेड की टीम ने बीते सप्ताह सुपरटेक इको विलेज और पंचशील हाइनीज सोसाइटी का निरीक्षण किया था। आंतरिक ढांचे में कमी मिलने पर सुपरटेक बिल्डर प्रबंधन को नोटिस भेजा गया है। उन्हें ढांचा दुरुस्त करने के लिए कहा है। वहीं, पंचशील हाइनीज सोसाइटी का दोबारा निरीक्षण किया जाएगा।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like