home page

उत्तर प्रदेश की इस सिटी में विकसित होगी प्रदेश की पहली टाउनशिप, किसानों के खातों में पैसा पहुंचना शुरू

UP News :उत्तर प्रदेश की पहली इंटीग्रेटेड ड्यूटी टाउनशिप विकसित की जाएगी। इस टाउनशिप के लिए टिओडी नीति का पालन भी किया जाएगा। इस नई टाउनशिप के लिए करीब 300 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की जाएगी।

 | 
उत्तर प्रदेश की इस सिटी में विकसित होगी प्रदेश की पहली टाउनशिप, किसानों के खातों में पैसा पहुंचना शुरू

UP Today News : उत्तर प्रदेश के इस जिले को नई टाउनशिप की बड़ी सौगात मिली है। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में 300 हेक्टेयर जमीन पर नई टाउनशिप विकसित की जाएगी। इस टाउनशिप के लिए बैनामा प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। इस बैनामा प्रक्रिया में 15 किसानों के खाते में 9.82 करोड रुपए खाते में डाले जा चुके हैं।

इस टाउनशिप के लिए पहली किस्त में 200 करोड रुपए जारी हुए है। प्रदेश की पहली इंटीग्रेटेड टाउनशिप दिल्ली रोड किनारे मोहिउद्दीनपुर के पास बसाई जाएगी। सोमवार को तकनीकी गड़बड़ी के कारण रजिस्ट्री नहीं हो पाई थी। 

जमीन बैनामा शुरू

इस टाउनशिप में शॉपिंग क्लब फ्लेक्स के ऊपर फ्लैट का निर्माण किया जाएगा। मेरठ विकास प्राधिकरण (मेडा) ने किसानों से बैनामा शुरू किया, जो राज्य की पहली इंटीग्रेटेड टीओडी टाउनशिप विकसित की जानी है। मेरठ विकास प्राधिकरण ने बैनामे का शुभारंभ करने वाले मोहिउद्दीनपुर के चार खसरा संख्या 137, 140, 141 और 142 से संबंधित पंद्रह किसानों के बैंक खाते में नौ करोड़ 82 लाख 36 हजार 742 रुपये की राशि भेजी।

संबंधित किसानों ने सोमवार को मेडा पर हस्ताक्षर किए, लेकिन एक तकनीकी भूल के कारण रजिस्ट्री नहीं हो सकी। अब उन किसानों को मेडा के पक्ष में मंगलवार को रजिस्ट्री करने का आदेश दिया गया है। किसानों को सर्किल रेट का चार गुना पैसा मिलता है। इसके अलावा, संबंधित जमीन पर बने घरों, ट्यूबवेलों और फसलों का मूल्यांकन करके अलग से रकम दी जाती है।

चारों गांवों की जमीन

यदि आप मेरठ से इस शहर की ओर जाएंगे, तो दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के इंटरचेंज से लगभग दो किमी की दूरी है। यह आरआरटीएस कॉरिडोर के मेरठ साउथ यानी भूड़बराल स्टेशन से 1.50 किमी दूर है। मोहिउद्दीनपुर चीनी मिल के सामने यह शहर बनेगा। यानी दिल्ली से मेरठ की ओर जाने पर यह दायीं ओर पड़ेगा। इसकी शुरुआत मिल के सामने मालगाड़ी के लिए रेलवे क्रासिंग से होगी। ताकि पूरी टाउनशिप दिल्ली रोड के किनारे विकसित हो सके, संबंधित चारों गांवों की जमीन दिल्ली रोड के किनारे खरीदी जा रही है।

मोहिउद्दीनपुर और छज्जूपुर की जमीन

टाउनशिप का फेस-वन दिल्ली रोड के किनारे मोहिउद्दीनपुर और छज्जूपुर की जमीन पर बनाया जाएगा। इन दोनों गांवों को नोटिफिकेशन भेजा गया है। दोनों गांवों के पास 141.88 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की जाएगी।

इकला-कायस्थ गावड़ी में टाउनशिप का फेस-टू

टाउनशिप का फेस-टू दिल्ली रोड किनारे इकला और गावड़ी की जमीन पर बनाया जाएगा। इन गांवों को अभी कोई सूचना नहीं दी गई है। दोनों गांवों का कुल क्षेत्रफल 152.78 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की जाएगी।

पहला शहर जिसमें शापिंग कांप्लेक्स फ्लैट होगा

यह राज्य की पहली इंटीग्रेटेड ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट (TOD) टाउनशिप होगी जिसमें शापिंग कांप्लेक्स के ऊपर फ्लैट होंगे क्योंकि इसमें TOD नीति के प्रविधानों का इस्तेमाल किया जाएगा। तीन या चार मंजिल नीचे शापिंग कांप्लेक्स होंगे, और उसके ऊपर विशाल फ्लैट होगा। इसी नीति से यह छूट मिलती है। इस नियम के तहत एक ही स्थान पर कई प्रकार की क्रियाएं की जा सकती हैं।

टाउनशिप अत्याधुनिक सुविधाओं वाली होगी

इस शहर में आईटी पार्क और औद्योगिक क्षेत्र भी होंगे। उन्नत अस्पताल, अपार्टमेंट, शापिंग कांप्लेक्स, आउटलेट, स्कूल आदि होंगे। टाउनशिप में इलेक्ट्रिक वाहनों की सुविधा होगी। पार्किंग क्षेत्र अत्याधुनिक होगा। दिल्ली, गुरुग्राम और नोएडा के लोग यहां रहने के लिए उत्सुक होंगे क्योंकि इसका सुंदरीकरण विश्वस्तरीय होगा।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like