home page

Sirsa Haryana : केलनियां में बनेगा 10 एमएलडी का नया एसटीपी, पानी होगा सिंचाई के लायक

Sirsa News : पानी को ट्रीट करने के बाद इसकी गुणवत्ता में सुधार होगा और पानी को सिंचाई के लायक बनाया जाएगा।

 | 
Sirsa Haryana : केलनियां में बनेगा 10 एमएलडी का नया एसटीपी, पानी होगा सिंचाई के लायक 

Saral Kisan, Sirsa News : शहरवासियों के लिए खुशखबरी सीवरेज जाम से निजात दिलाने के लिए केलनियां स्थित सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में नई तकनीक पर आधारित एमएलडी यानी मिलियन लीटर डेली का नया सीवरेज ट्रीटमेंट प्लाट लगाया जाएगा। इसके अलावा पुराने प्लांट को भी अपग्रेड किया जाएगा। इसके लिए जनस्वास्थ्य विभाग ने 15 करोड़ रुपए का प्रस्ताव बनाकर मुख्यालय को भेज दिया है। मंजूरी मिलते ही काम शुरू हो जाएगा। यह काम अमृत योजना 2.0 के तहत होगा।

नए एसटीपी के निर्माण के बाद एक तरफ शहरवासियों को सीवरेज जाम से निजात मिलेगी। वहीं, शहरी क्षेत्र से निकलने वाले सीवरेज के पानी को ट्रीट करने के बाद इसकी गुणवत्ता में सुधार होगा। पानी को सिंचाई के लायक बनाया जाएगा।  एसटीपी का निर्माण नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के मापदंडों के अनुसार किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले केलनिया रोड स्थित एसटीपी परिसर में 25 एमएलडी और 15 एमएलडी के दो एसटीपी बनाए गए थे। गांव नटार में भी 10 एमएलडी क्षमता का प्लांट स्थापित है। अब केलनिया में 10 एमएलडी का नया एसटीपी बनने से सीवरेज जाम से राहत मिलेगी। यहां पर टेरिटरी ट्रीटमेंट की सुविधा उपलब्ध होगी। इससे पानी को ट्रीट करने के बाद उसकी गुणवत्ता में भी सुधार आएगा।

क्षतिग्रस्त लाइनों और जर्जर मैनहोल की होगी मरम्मत

सीवरेज ब्लॉकेज, लीकेज और क्षतिग्रस्त सीवरेज लाइनों की समस्या से निजात दिलाने के लिए जनस्वास्थ्य विभाग ने भी योजना बनाई है। सीवरेज समस्या के सुधार के लिए एस्टीमेट बनाकर भेज दिया गया है। बजट जारी होने के बाद न केवल क्षतिग्रस्त लाइन को बदला जाएगा, बल्कि ब्लॉकेज को भी हटाया जाएगा और जर्जर सीवरेज मैनहोल की भी मरम्मत की जाएगी।  शहरी क्षेत्र से प्रतिदिन जनस्वास्थ्य विभाग के पास सीवरेज जाम की 10 से अधिक शिकायतें दर्ज हो रही हैं।

पुराने एसटीपी को भी अपग्रेड किया जाएगा

दो दर्जन गांवों के किसान गंदे सीवरेज के पानी से सिंचाई करते हैं, जिसका असर सब्जियों व फसलों पर भी पड़ता है। शहरवासी भी इससे प्रभावित हैं। स्वच्छ पानी मिलने से किसानों की परेशानी खत्म होगी। पुराने एसटीपी प्लांट को भी अपग्रेड किया जाएगा। इसकी कार्ययोजना तैयार की जा रही है। शहर में सीवरेज कनेक्शन बढ़ने के साथ ही इस प्लांट की जरूरत भी बढ़ेगी। फिलहाल इसे चालू रखा गया है, ताकि इसमें लगी मशीनें खराब न हों। अपग्रेड होने के बाद नई मशीनें भी लगाई जाएंगी।

एस्टीमेट बनाकर मुख्यालय भेजा जाएगा

अमृत योजना 2.0 के तहत केलनिया में नया एसटीपी बनाया जाएगा। एस्टीमेट बनाकर मुख्यालय भेजा गया है। मंजूरी मिलते ही काम शुरू हो जाएगा। नया एसटीपी बनने से सीवरेज जाम की समस्या से भी निजात मिलेगी।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like