home page

इस वर्ष चने का उत्पादन 100 लाख टन से भी कम होने का अनुमान

Gram Price Today  :  प्रमुख दलहन फसल चने की कीमतों में भी इस साल भारी उछाल देखने को म‍िल रहा है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने चालू सीजन 2022-23 में चने का घरेलू उत्पादन करीब एक लाख टन घटकर चालू सीजन 2023-24 में 121.60 लाख टन रहने का अनुमान लगाया है।
 | 
इस वर्ष चने का उत्पादन 100 लाख टन से भी कम होने का अनुमान

Gram Price Today  :  प्रमुख दलहन फसल चने की कीमतों में भी इस साल भारी उछाल देखने को म‍िल रहा है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने चालू सीजन 2022-23 में चने का घरेलू उत्पादन करीब एक लाख टन घटकर चालू सीजन 2023-24 में 121.60 लाख टन रहने का अनुमान लगाया है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि वास्तविक उत्पादन 100 लाख टन से भी कम रहा है। मांग और आपूर्ति में भारी अंतर के कारण चने का खुला बाजार भाव पहली बार 7000 रुपये प्रति क्विंटल की मनोवैज्ञानिक सीमा को पार कर गया है।

इसके आयात को अक्टूबर तक शुल्क मुक्त कर दिया गया है, लेकिन निर्यातक देशों और खासकर ऑस्ट्रेलिया और तंजानिया में सीमित स्टॉक को देखते हुए सरकार के इस फैसले का ज्यादा सकारात्मक असर पड़ने की संभावना नहीं है। 

चने का आयात धीमी गति से और कम मात्रा में हो सकता है। इस बार चने का न्यूनतम समर्थन मूल्य 5440 रुपये प्रति क्विंटल तय किया गया है, जो पिछले साल के समर्थन मूल्य 5335 रुपये प्रति क्विंटल से 105 रुपये अधिक है।  इसकी तुलना में चने का थोक बाजार भाव 7150 से 7200 रुपये प्रति क्विंटल के बीच चल रहा है यानी करीब 35 फीसदी ज्यादा। बुकिंग के लिए 150 रुपये से ज्यादा हो गया है। 

सरकारी एजेंसियों को बफर स्टॉक के लिए चना खरीदने में दिक्कत आ रही है। देसी चने की आपूर्ति और उपलब्धता बढ़ाने के लिए सरकार 100 लाख टन से कम चने का उत्पादन होने का अनुमान

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like