home page

उत्तर प्रदेश के 84 गांव की 14 हजार हेक्टेयर ज़मीन पर बनेगा New Noida, प्रोजेक्ट में लगेगा इतना समय

UP Big Breaking: योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में विकास के कामों की झड़ी लगा रखी हैं। यूपी में आपको बता दे की हर दिन कुछ ना कुछ नई योजनाएं सरकार के द्वारा शुरू भी की जाती हैं। आपको ताज़ा जानकारी देते हुए बता दे की  यूपी में अब इस शहर में एक और Noida बनाया जायेगा। इस नए Noida के लिए 84 गांवों की तकरीबन 14 हजार हेक्टेयर ज़मीन को चिन्हित भी किया गया है। UP सरकार जल्द ही इस प्रोजेक्ट पर कार्य भी शुरू करने वाली हैं। चलो जानते हैं इस प्रोजेक्ट के बारे में

 | 
New Noida will be built on 14 thousand hectares of land in 84 villages of Uttar Pradesh, the project will take so much time.

UP News: अब यूपी में बीडा नामक नया औद्योगिक शहर एससीआर (NCR) के बाद बनाया जाएगा। केंद्रीय सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार ने इसके लिए बहुत कुछ किया है। डबल इंजन सरकार द्वारा औद्योगीकरण को बढ़ावा देने की पहल से उत्तर प्रदेश (UP news) आज पूरे देश में निवेशकों का सबसे पसंदीदा स्थान बन गया है। उद्यमियों ने उत्तर प्रदेश को बेहतर बुनियादी सुविधाओं, निवेश अनुकूल नीतियों और चुस्त-दुरुस्त कानून-व्यवस्था से देखा है। उत्तर प्रदेश बहुत से निवेशकों को आकर्षित कर रहा है। डिफेंस कॉरिडोर परियोजना ने उत्तर प्रदेश को रक्षा क्षेत्र में एक नई पहचान दी है। उत्तर प्रदेश में एक ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल करने में औद्योगिक विकास की तेज गति महत्वपूर्ण होगी। 

लॉजिस्टिक सुलभता (लीड्स) रैंकिंग में अचीवर्स श्रेणी-

हाल ही में उत्तर प्रदेश ने एक और बड़ी सफलता हासिल की है। भारत सरकार की ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग और राज्यों की लॉजिस्टिक सुलभता रैंकिंग में अचीवर्स श्रेणी मिली है। कारोबारी सुगमता (ईज ऑफ़ डूइंग बिजनेस) के तहत निवेश मित्र उद्यमियों को 37 विभागों की 454 से अधिक ऑनलाइन सेवाएं देते हैं। यह देश का एकमात्र पोर्टल है जो राष्ट्रीय एक विंडो प्रणाली में शामिल है। निवेश मित्र में लगातार अतिरिक्त सेवाएं जोड़ी जाती हैं। 

बुंदेलखंड को नए औद्योगिक शहर की सौगात-

योगी सरकार ने बुंदेलखंड को नोएडा की तरह एक नया औद्योगिक शहर दिया है। बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण (बीडा) ने झांसी-ग्वालियर मार्ग पर एक नया औद्योगिक शहर बनाया है। मुख्य बात यह है कि नोएडा से बीडा का आकार बड़ा होगा। नोएडा 13 हजार हेक्टेयर जमीन पर विकसित हुआ, जबकि बीडा लगभग 14 हेक्टेयर जमीन पर विकसित हो रहा है। योगी सरकार पहले 5000 करोड़ रुपये देगी। न्यू नोएडा भी ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के दादरी और बुलंदशहर के 84 गांवों पर बनाया जाएगा।

इसे शिकागो, अमेरिका, की तरह बनाया जाएगा। नोएडा प्राधिकरण बोर्ड की हाल ही में हुई बैठक में नोएडा का मास्टर प्लान-2041, जो न्यू नोएडा को विकसित करना चाहता है, को मंजूरी दी गई। शासन से अनुमोदन मिलते ही जमीन अधिग्रहण शुरू हो जाएगा। इसे दादरी-नोएडा-गाजियाबाद को जोड़ते हुए शासन के रिकॉर्ड में विशेष निवेश क्षेत्र का नाम दिया गया है। नया नोएडा २००० हेक्टेयर जमीन पर बनाया जाएगा। इसे खासतौर से औद्योगिक क्षेत्र को बढ़ाना होगा। नए नोएडा में कर्मचारियों को भी आवास मिलेगा। 

आकार ले रही बड़ी परियोजनाएं-

यूपी में कई बड़ी परियोजनाएं शुरू हुई हैं। प्रदेश का पहला मेडिकल डिवाइस पार्क यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे बनाया जा रहा है। फिल्म सिटी, टॉय पार्क, अपैरल पार्क, हस्तशिल्प पार्क और लॉजिस्टिक हब सब यमुना एक्सप्रेस-वे क्षेत्र में बनाए जा रहे हैं। ग्रेटर नोएडा में आईआईटी जीएनएल, बरेली में मेगा फूड पार्क, उन्नाव में ट्रांस गंगा सिटी, गोरखपुर में प्लास्टिक व गारमेंट पार्क और कई फ्लैटेड फैक्ट्री परिसर बन रहे हैं।

लखनऊ और हरदोई में मेगा टेक्सटाइल पार्क-

प्रदेश सरकार एमएम मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल्स एंड अपैरल (PM Friend) योजना के तहत लखनऊ और हरदोई में 1000 एकड़ क्षेत्र में मेगा टेक्सटाइल पार्क बनाएगी। टेक्सटाइल क्षेत्र के लिए टेक्सटाइल पार्क अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा प्रदान करेगा, जो उद्योगों को एक स्थान पर एकीकृत करके लॉजिस्टिक खर्चों को कम करेगा। यह पार्क लगभग एक लाख प्रत्यक्ष और दो लाख अप्रत्यक्ष रोजगार सृजन करेगा और टेक्सटाइल और परिधान क्षेत्र में 10,000 से 15,000 करोड़ का निवेश आकर्षित करेगा।

ये पढे : UP News : उत्तर प्रदेश वालों की मौज, 3 एक्‍सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा ये रास्‍ता, सड़क किनारे बनेंगे हाईवे विलेज, जमीन फाइनल

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like