home page

उत्तर प्रदेश के इस जिले में 6 गावों से जमीन होगी अधिग्रहण, जागृति विहार एक्सटेंशन योजना का विस्तार

UP News : उत्तर प्रदेश के 6 गांव के किसानों की हुई मौज, उत्तर प्रदेश में आवास विकास विभाग ने जागृति विहार एक्सटेंशन योजना को बसाने की कार्य प्रणाली को शुरू कर दिया है. इस योजना को बसाने के लिए करीब 6 गांव के किसानों की जमीन का किया जाएगा अधिग्रहण। 
 | 
उत्तर प्रदेश के इस जिले में 6 गावों से जमीन होगी अधिग्रहण, जागृति विहार एक्सटेंशन योजना का विस्तार

Saral Kisan, UP News : उत्तर प्रदेश में आवास विकास परिषद ने जागृति विहार एक्सटेंशन परियोजना को एक बार फिर से शुरू कर दी गई है। 6 गांवों के किसानों की कुल 75 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया जाना है । इन गांवों की जमीन अधिग्रहण के लिए मालिक और एक हजार किसानों को प्रस्ताव भेजे गए हैं। किसानों की तरफ से पक्की बात होने के बाद जमीन अधिग्रहण का काम तेजी से सुरू कर जाएगा।

आवास विकास परिषद ने ने इस जागृति विहार एक्सटेंशन को बसाने के लिए साल 2008 में काम शुरू कर दिया था। उस समय पास के गांवों की 266 हेक्टेयर जमीन को अधिग्रहण करना था। उस वखत आवास विकास ने जमीन मालिक और किसानों से अधिग्रहण को लेकर करार किया था और और लगभग किसानों ने अपनी भूमि अधिग्रहण के लिए विभाग को हाँ कर दी थी। परंतु छह गांवों के किसानों ने जमीन देने के फैन्सले को ठुकरा दिया था।  भूमि देने से कर मना।

जागृति विहार एक्सटेंशन परियोजना के लिए अब तक केवल 266 हेक्टर जमीन में से अब तक सिर्फ 191 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण हुआ है। इस योजना के तहत बाकी बची 75 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अब एडीएम एलए कार्यालय के तहत 1000 किसानों को जमीन अधिग्रहण के लिए नोटिस भेजा गया है.

पहले चरण में होना था अधिग्रहण

इस परियोजना को योजना के शुरू करने के लिए पहले चरण में किसानों से बातचीत करके जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। अब विभाग के आदेश पर पूर्णरूप से बची भूमि का अधिग्रहण किया जाना है।  अधिग्रहण प्रक्रिया के अंतर्गत सबसे अधिक जमीन घोसीपुर गांव की अधिग्रहण और अन्य गांव कमालपुर, गेसूपुर दतावली, सराय काजी, कस्बा मेरठ, काजीपुर और घोसीपुर गांवों की जमीन ली जाएगी। इन गांवों में सबसे ज्यादा घोसीपुर गांव की कुल 38 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like