home page

हाईवे पर यात्रा के दौरान दिख जाए ये पीली लाइन तो हो जाएं सतर्क, गाड़ी पलटने से होगा बचाव

हाईवे पर यात्रा करने से पहले आपको पीली लाइनों के बारे में जानकारी होनी चाहिए. जिससे आप अपनी यात्रा को सुरक्षित तरीके से पूरा कर सकते हैं.
 | 
 हाईवे पर यात्रा के दौरान दिख जाए ये पीली लाइन तो हो जाएं सतर्क, गाड़ी पलटने से होगा बचाव
Yellow Line on Road Means in India : हाईवे और सड़क पर चलना एक शानदार ट्रिप है. देश में लगातार हो रहे एक्सप्रेसवे और हाईवे के निर्माण से एक दूसरे शहरों के बीच आने जाने का समय घट रहा है. भारत में पिछले सालों में कुछ ऐसे हाईवे का निर्माण किया गया है. जिन पर चलने के दौरान सुख यात्रा का अनुभव प्राप्त होता है. लेकिन आपको हाईवे और सड़कों पर चलने से पहले नियमों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है.

भारत में बहुत सारे लोग हाईवे पर चलने के सुरक्षा नियमों को नहीं जानते, लेकिन हाईवे अथवा एक्सप्रेसवे पर चलने से पहले आपको यह नियम ज्ञात होने चाहिए. इसलिए हम आपको कुछ ऐसे सेफ्टी टिप्स के बारे में बताएंगे. जो आप पालन करेंगे तो आपको यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार की सुरक्षा को लेकर परेशानी नहीं आएगी. हम बता रहे हैं हाईवे के बीच सड़क पर बनी पीली लाइनों के बारे में, अगर आपको हाईवे पर इन पीली लाइनों का मतलब नहीं पता. तो चलिए हम आपको इस बारे में विस्तार से जानकारी देंगे.

पीली लाइनों का मतलब क्या है? 

गाड़ी चलाने के दौरान अपने एक्सप्रेस वे या हाईवे पर 5-6 पीली लाइनों की सीरीज जरूर देखी होगी. अगर आपकी नजर इन पीली लाइनों पर पड़े तो आपको अलर्ट हो जाना चाहिए. यदि आप अलर्ट नहीं हुए और आपने गाड़ी को धीमा नहीं किया तो हादसा हो सकता है. वैसे तो इन लाइनों के आने से थोड़ी दूरी पर पहले आपको साइन बोर्ड मिल जाएगा. परंतु सड़क पर बनी पीली लाइन इस बात का मुख्य संकेत होती है कि रोड पर आगे क्या आने वाला है. इसलिए हाईवे पर पीली लाइन दिखने पर गाड़ी की रफ़्तार को धीमा कर लेना चाहिए क्यों इनसे गाड़ी पलटने का डर बना रहता है.

गाड़ी को करें धीमा, 

हाईवे पर ड्राइव करते समय आपको यदि सामने सफेद स्ट्रिप या पीली स्ट्रिप दिख जाए तो गाड़ी को धीमा कर ले. क्योंकि यह लाइन हमें बताती है कि रोड पर आगे कुछ बदलाव होने वाला है. इसका मतलब यह होता है कि आपको रोड पर आगे गैप मिलने वाला है जहां जहां से लोग यूटर्न लेंगे. या फिर दाएं या बाएं कोई टर्न होगा. लाइनों का यह भी मतलब होता है कि आगे सड़क पर कोई स्कूल, होटल या लोकेलिटी हो, यहां पर आपको यह पीली लाइनिंग जरूर देखने को मिल सकती है.

हादसा होने का डर क्यों? 

ज्यादातर लोग हाईवे पर एक स्पीड में ही गाड़ी को चलाते हैं. क्योंकि हाईवे पर स्पीड ब्रेकर नहीं होते. जब गाड़ी इन पीली लाइनों से गुजरती है तो लोग रफ्तार को कम नहीं करते. लेकिन इन पीली लाइनों की थोड़ी ऊंचाई होने के कारण क्रॉस होने के वक्त गाड़ी में कंपन शुरू हो जाता है. यह वाइब्रेशन चालक को अलर्ट करता है कि आगे रोड पर कुछ बदलाव है. 

हाईवे पर यात्रा करना आसान है. लेकिन यदि नियम नहीं पता होंगे तो ये जोखिम भरा भी हो सकता है. इन नियमों का पालन करने से हर तरीके के हादसों से बचा जा सकता है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like