home page

उत्तर प्रदेश में एक एकड़ में आती है कितने बीघे, जानिए अन्य राज्यों का हिसाब किताब

जैसा कि हम जानते हैं बहुत लंबे समय से भारत में जमीन मापने के लिए खास तौर पर इस तरह के पैरामीटर का इस्तेमाल किया जाता है। इसके बाद अगर बात करें कि हर राज्य में भी का एक समान होता है। तो आज हम आपको बताते हैं कि हर राज्य में आने वाली जमीन का टुकड़ा राज्य के हिसाब से अलग-अलग होता है।
 | 
उत्तर प्रदेश में एक एकड़ में आती है कितने बीघे, जानिए अन्य राज्यों का हिसाब किताब

Uttar Pradesh News: खेतीबाड़ी से संबंध रखने वाले लोगों को बीघा के बारे में जरूर पता होगा। अगर आप बीघा के बारे में जानना चाहते हैं तो आपको बता दें कि यह एक जमीन मापने का सबसे लोकप्रिय तरीका है। इस शब्द का प्रयोग उत्तर भारत के यूपी, बिहार, राजस्थान आदि राज्यों में किया जाता है। जैसा कि हम जानते हैं जमीन मापने के लिए कई तरह के पैरामीटर का इस्तेमाल किया जाता है। जैसे कि एकड़, हेक्टेयर, स्क्वायर मीटर स्क्वायर फीट आदि पैरामीटर का इस्तेमाल होता है। बीघा का प्रयोग स्थानीय लोगों द्वारा निजी तौर पर जमीन मापने की इकाई है।

क्या होता है बीघा का मापदंड

जैसा कि हम जानते हैं बहुत लंबे समय से भारत में जमीन मापने के लिए खास तौर पर इस तरह के पैरामीटर का इस्तेमाल किया जाता है। इसके बाद अगर बात करें कि हर राज्य में भी का एक समान होता है। तो आज हम आपको बताते हैं कि हर राज्य में आने वाली जमीन का टुकड़ा राज्य के हिसाब से अलग-अलग होता है।

1 एकड़ में बनते हैं कितने बीघे

भारत में क्षेत्रीय अंतर के चलते बीघा और एकड़ में काफी फर्क है। जैसा कि हम बताते हैं उत्तर प्रदेश में 1 एकड़ में करीबन 1.6 बीघा आते हैं। परंतु यह है अगर पूरे राज्य में उठाकर देखें तो बराबर नहीं है। अलग-अलग हिस्सों में इसमें थोड़ी कमी या बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। देश के अलग-अलग राज्यों में बीघे भी अलग-अलग है।

बंगाल में 1 एकड़ में 3 बीघे आ जाते है, पंजाब और हरियाणा में एक एकड़ करीबन 4 बीघे के बराबर होती है। राजस्थान के अलग अलग हिस्सों में जमीन 1.6 बीघे से लेकर 3 बीघे तक चली जाती है।

क्या है एकड़ का मतलब

जमीन मापने की इक्काडिकाई का जन्म इंग्लैंड में हुआ था। असल में एकड़ शब्द अंग्रेजी के एसर अक्षर से आया है। इसका अर्थ यह बनता है कि एक क्षेत्र को ऐतिहासिक रूप से एक एकड़ में इस तरह परिभाषित किया गया था कि एक बैलों की जोड़ी एक दिन में जितना खेत जोत सकती है। इस इकाई को इसके बाद 43560 स्क्वायर फीट में स्टैंड राइस किया गया। अब इसका इस्तेमाल कई देशों में अमेरिका कनाडा और भारत के कई हिस्सों में भूमि के लेनदेन और कृषि योजनाओं के लिए होता है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like