home page

Haryana News : फरीदाबाद के 5 विधानसभा इलाकों की हुई मौज, फ्लाईओवर बनेगा 4 लेन, लोगों से खरीदी जाएगी जमीन

NCR News : अब बल्लभगढ़ में सोहना रेलवे फ्लाईओवर को चार लेन बनाने का मार्ग पूरी तरह साफ हो गया है। फ्लाईओवर को चौड़ी करने के लिए हरियाणा सरकार ने जमीन खरीदने के लिए 15 करोड़ रुपये भी जारी किए हैं।
 | 
Haryana News : फरीदाबाद के 5 विधानसभा इलाकों की हुई मौज, फ्लाईओवर बनेगा 4 लेन, लोगों से खरीदी जाएगी जमीन
Saral Kisan (Haryana News) : अब फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ में सोहना रेलवे फ्लाईओवर को चार लेन बनाने का काम पूरी तरह से पूरा हो गया है। फ्लाईओवर को चौड़ी करने के लिए हरियाणा सरकार ने जमीन खरीदने के लिए 15 करोड़ रुपये भी जारी किए हैं। अधिकारी कहते हैं कि इस मामले में रजिस्ट्री जल्द ही शुरू हो जाएगी। इसके अलावा, जल्द ही सरकार रेलवे ओवरब्रिज पर काम करने के लिए करीब एक करोड़ 62 लाख रुपये भी देगी। अधिकारियों का दावा है कि जल्द ही आगे की कार्रवाई शुरू होगी।

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने 10 अप्रैल 2016 को एनआईटी विधानसभा में एक जनसभा में इस फ्लाईओवर को चार लेन का बनाने की घोषणा की। 2009 में बनाया गया बल्लभगढ़-सोहना रेलवे फ्लाईओवर अभी दो लेन का है, जिससे हर दिन हजारों वाहन चलते हैं। संकरा होने के कारण पुल पर सुबह-शाम लंबे समय तक जाम लगता है। इससे कर्मचारियों को बहुत परेशानी होती है। इतना ही नहीं, लगभग पांच हजार उद्योगों का कच्चा माल ले जाने वाले वाहन चालकों में से अधिकांश इस फ्लाईओवर पर लंबे समय तक जाम लगता है। इससे भी उन्हें बहुत परेशानी होती है।

फ्लाईओवर पांच विधानसभा क्षेत्र से जुड़ा है

NIIT विधानसभा क्षेत्र में करीब आठ साल पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक रैली में सोहना फ्लाईओवर को चार लेन बनाने का ऐलान किया था। पांच विधानसभा क्षेत्रों बल्लभगढ़, फरीदाबाद, पृथला, एनआईटी और बड़खल इस फ्लाईओवर से जुड़े हुए हैं। इसलिए रैली में तीन विधायकों ने दो लेन के फ्लाईओवर को चार लेन बनाने की मांग उठाई थी, ताकि फरीदाबाद के लोगों को जाम से छुटकारा मिल सके। सुबह-शाम पुल पर लंबे समय तक जाम लगता है क्योंकि फ्लाईओवर बहुत संकरा है।

प्राइवेट कंपनी व लोगों से खरीदी जाएगी जमीन

चार लेन का फ्लाईओवर बनाने के लिए मौके पर जमीन केवल 11 मरले की है, जबकि चार लेन का फ्लाईओवर बनाने के लिए कम से कम 8 कैनाल 14 मरले जमीन की जरूरत है। तब ही चार लेन का फ्लाईओवर बनाया जा सकेगा। जमीन की कमी के कारण सरकार ने निजी भू-स्वामियों को जमीन खरीदने के लिए 15 करोड़ रुपये निकाले हैं। अधिकारियों का दावा है कि जमीन को आने वाले कुछ दिनों में रजिस्ट्री कर दी जाएगी।

इस क्षेत्र के लोगों को होती है परेशानी

सोहना फ्लाईओवर से ग्रामीण क्षेत्र (सेक्टर-25, 24, 23, 22, एनआईटी औद्योगिक क्षेत्र, रिहायशी क्षेत्र सेक्टर-55, 56, राजीव कॉलोनी, संजय गांधी मेमोरियल नगर, मुजेसर, सरूरपुर, पाली, पाखल, नंगला गुजरान, गौंछी, सोहना और गुड़गांव) में हर दिन लाखों लोग जाते हैं। पुल एवं सड़क निर्माण विकास निगम के उप महाप्रबंधक राहुल सिंह ने कहा, "जमीन को लेने के लिए सरकार ने 15 करोड़ रुपये जारी किए हैं। सरकार जल्द ही एक करोड़ 62 लाख रुपये रेलवे को देगी। इसके बाद ही अगले कदम उठाया जाएगा।

Also Read : उत्तर प्रदेश में 518 गावों को तगड़ा फायदा, 2025 तक होगा तैयार, 12 जिलों से गुजरेगा ये नया एक्सप्रेसवे

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like