home page

Bihar के भागलपुर में 515 करोड़ रुपए में फोरलेन हाईवे का निर्माण, सड़कों की भी होगी मरम्मत

Saral Kisan  : बिहार में बिछ रहा सड़कों का जाल, 12.695 किलोमीटर लंबी बनेगी रोड इसका निर्माण कार्य रूरल वर्क डिपार्टमेंट की देखरेख में होगा, इस निर्माण कार्य के टेंडर 14 अप्रैल को खोले जाने थे परंतु लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण प्रक्रिया को नहीं खोलने की वजह से सड़क बनाने वाली एजेंसी का चयन नहीं हो पाया, जिस कारण सड़कों का निर्माण कार्य मई महीने में चालू नहीं हो पाया। 
 | 
Bihar के भागलपुर में 515 करोड़ रुपए में फोरलेन हाईवे का निर्माण, सड़कों की भी होगी मरम्मत

Bihar News, Saral Kisan  : बिहार में बिछ रहा सड़कों का जाल, 12.695 किलोमीटर लंबी बनेगी रोड इसका निर्माण कार्य रूरल वर्क डिपार्टमेंट की देखरेख में होगा, इस निर्माण कार्य के टेंडर 14 अप्रैल को खोले जाने थे परंतु लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण प्रक्रिया को नहीं खोलने की वजह से सड़क बनाने वाली एजेंसी का चयन नहीं हो पाया, जिस कारण सड़कों का निर्माण कार्य मई महीने में चालू नहीं हो पाया, कार्य के शुरू होते ही पहले चरण में भागलपुर से लेकर अंबा जिले के ढाका मोड तक फोर लाइन हाईवे बनेगा. 12 करोड़ 54 लाख 53 हजार की लागत राशि से बनने वाली बबरगंज से बड़ी खुटाहा समेत 14 ग्रामीण रोडों की निर्माण करने वाली फर्म का चयन लोकसभा चुनाव आचार संहिता खत्म होने के बाद होगा। इनका निर्माण कार्य जून में शुरू होगा।

12.695 किलोमीटर लंबी रोड निर्माण कार्य रूरल वर्क डिपार्टमेंट की देखरेख में होगा। इस निर्माण कार्य के टेंडर 14 अप्रैल को खोले जाने थे परंतु लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण प्रक्रिया को नहीं खोलने की वजह सड़क एजेंसी का चयन नहीं हो पाया। जिस कारण सड़कों का निर्माण कार्य मई महीने में चालू नहीं हो पाया। इन सड़कों के बनने से गाव के लोगों को सफर करने में सहूलियत होगी। रोड़ का निर्माण करने वाले ठेकेदार को सड़क का मेंटेनेंस कराना अनिवार्य होगा यह सारी सड़कें वर्तमान में खराब जर्जर हैं। सड़कों का निर्माण मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क योजना से होगी। निर्माण की राशि में मेंटेनेंस राशि एक करोड़ एक लाख रुपये शामिल है।

फोरलेन हाइवै के लिए तार व पोल किए जाएंगे शिफ्ट

कार्य के पहले चरण में भागलपुर से लेकर बांका जिले के ढाकामोड तक 515.17 करोड़ रुपए राशि की लागत से बनकर तैयार होने वाले भागलपुर-भलजोर 4 लाइन हाइवै के निर्माण के लिए बीच में आने वाले बिजली खंभे और तार शिफ्ट किए जाएंगे। पोल और तार को हटाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग को 8 करोड़ 34 लाख 88 हजार 557 रुपये बिजली विभाग को अनुदान करना होगा।

इसमें 18 प्रतिशत जीएसटी और सुपरविजन चार्ज की राशि के रूप में 24 लाख 30 हजार 70 रुपये शामिल हैं। साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड, भागलपुर आपूर्ति क्षेत्र द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग को सौपे गए प्राक्कलन के अनुसार हाईटेंशन व एलटी लाइन, 35 पोल, 200, 100, 63 व 25 केवीए के कुल 55 ट्रांसफार्मर हटाये जाने हैं।

सड़क निर्माण में आने वाली भू-अर्जन की समस्या का समाधान हो गया है। पहले फेज में भागलपुर से ढाकामोड़ तक फोरलेन सड़क की निविदा भी आचार संहिता खत्म होने के बाद खोल दी जाएगी। भू-अर्जन में बाधा उत्पन्न से पिछले पांच माह से टेंडर नहीं खोला जा सका है।
 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like