home page

Himachal Pradesh के इन शहरों के बीच बनेगी बायपास फोरलेन सड़क, कई गावों को फायदा

Himachal Latest News : हिमाचल प्रदेश में शिमला-मटौर और फौरन हाईवे बनाया जा रहा है। इससे फोरलेन हाईवे की निर्माण के बाद शिमला से धर्मशाला की दूरी 40 किलोमीटर तक कम हो जाएगी। हिमाचल में बघेल से हमीरपुर तक फोरलेन की अंतिम डीपीआर तैयार करके प्रशासन को भेज दी गई है। 

 | 
Himachal Pradesh के इन शहरों के बीच बनेगी बायपास फोरलेन सड़क, कई गावों को फायदा

Shimla Mataur four lane : हिमाचल के शिमला-मटौर फोरलेन हाईवे का काम पांच चरण के जरिए किया जा रहा है। हिमाचल के शिमला-मटौर फोरलेन हाईवे के तीसरे पैकेज के माध्यम से भगेड़ से हमीरपुर तक का टेंडर तैयार कर लिया गया है। इस फोरलेन हाईवे के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। फोरलेन हाईवे की डीपीआर उच्च अधिकारियों की देखरेख में तैयार हुई है।

शिमला मटौर फोरलेन का निर्माण पांच चरणों में होगा। इसमें पांच पैकेज हैं: पहला शिमला से भराड़ी घाट, दूसरा भगेड़ से हमीरपुर, चौथा भगेड़ से ज्वालामुखी और पांचवां मटौर से ज्वालामुखी। जिसमें चार पैकेज की डीपीआर फाइनल करने के साथ आगे की प्रक्रिया शुरू हो गई है. दूसरी ओर, भगेड़ से हमीरपुर तक 46 किलोमीटर लंबे फोरलेन की अंतिम डीपीआर बनाकर उच्च अधिकारियों को भेजी गई है, जिसकी स्वीकृति मिलने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी।

बाईपास की सुविधा

घुमारवीं शहरवासियों को भगेड़ से हमीरपुर तक बनने वाले फोरलेन में बाईपास की सुविधा मिलेगी।यह बाईपास बल्लू स्कूल से शुरू होगा और कई गांवों से निकलकर कलरी गांव में आ जाएगा। बाईपास बनना फाइनल है, लेकिन अंतिम डीपीआर की स्वीकृति मिलने के बाद ही यह निर्धारित रूट से बनाया जाएगा।

पर्यटन के लिए भी महत्वपूर्ण

मटौर से शिमला तक बनने वाला फोरलेन पर्यटन के लिए भी महत्वपूर्ण होगा। इसके बनने से धर्मशाला और शिमला टूरिस्ट प्लेस फोरलेन से आपस में जुड़ जाएंगे। शिमला से धर्मशाला की वर्तमान 223 किलोमीटर की दूरी 180 किलोमीटर हो जाएगी। करीब 43 किलोमीटर की दूरी घट जाएगी।  इसमें घुमारवीं शहर के लिए बाईपास भी होगा।


 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like