home page

काली मिर्च तथा इलायची में और तेजी की संभावना

Cardamom Price Increase :मौसमी कारणों से इस बार भारतीय मसालों पर खासा असर देखने को मिल रहा है। खासकर काली मिर्च और इलायची के भाव भविष्य में भी ऊंचे बने रहने की उम्मीद है।
 | 
काली मिर्च तथा इलायची में और तेजी की संभावना

Cardamom Price Increase : मौसमी कारणों से इस बार भारतीय मसालों पर खासा असर देखने को मिल रहा है। खासकर काली मिर्च और इलायची के भाव भविष्य में भी ऊंचे बने रहने की उम्मीद है। स्थानीय थोक किराना बाजार में गुरुवार को काली मिर्च के भाव में 20 रुपए की तेजी आई। दरअसल, श्रीलंका और वियतनाम जैसे प्रमुख उत्पादक देशों में इस साल मिर्च का उत्पादन 50 फीसदी कम हुआ है। ऐसे में भारत में काली मिर्च का आयात महंगा हो सकता है।

जबकि घरेलू संभाग में काली मिर्च के उत्पादन में पहले से ही कमी के आसार हैं। ऐसे में मजबूत मांग और आपूर्ति की कमी के कारण भाव में तेजी का माहौल है। उम्मीद है कि भविष्य में काली मिर्च के भाव में 50 रुपए की तेजी आएगी। इधर, जीरे में 300 रुपए तक की तेजी दर्ज की गई है।

वहीं ग्वाटेमाला में सूखे की आशंका के कारण इलायची की फसल प्रभावित हुई है।  यहां कई इलाकों खासकर इडुक्की में 10 मई से बारिश शुरू हो गई है। इससे यहां की फसलों को फायदा हुआ है। वहीं, अन्य इलाकों में भीषण गर्मी और सूखे के चलते भारतीय उत्पादन पिछले सीजन के मुकाबले करीब 50 फीसदी घटकर 16 हजार टन रह सकता है। अगस्त से इलायची की निर्यात मांग बढ़ने की उम्मीद है। ऐसे में घरेलू और निर्यात मांग बढ़ने और उत्पादन घटने से भविष्य में इलायची की कीमतों में तेजी आने की पूरी संभावना है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like