home page

उत्तर प्रदेश में यहां बसाया जाएगा नया सुंदर सा शहर, 5 चरणों में होगा काम, 20 हजार हेक्टेयर में बनेगा

UP News : उत्तर प्रदेश में नए शहर बनाने के मास्टर प्लान को लेकर बड़ा अपडेट सामने आई है। इस नए शहर को 20000 हेक्टेयर में बसाया जाएगा। इस मास्टर प्लान से कई इलाकों का तगड़ा फायदा होने वाला है। 

 | 
उत्तर प्रदेश में यहां बसाया जाएगा नया सुंदर सा शहर, 5 चरणों में होगा काम, 20 हजार हेक्टेयर में बनेगा

Uttar Pradesh News : उत्तर प्रदेश के इस जिले के लोगों को बड़ी सौगात मिली है। उत्तर प्रदेश में नया शहर बसाने के मास्टर प्लान पर बड़ी तेजी से कार्य शुरू हो चुका है। आने वाले दो-तीन महीना में बड़ी खुशखबरी मिलने की उम्मीद है। उत्तर प्रदेश में 20000 हेक्टेयर जमीन पर नया नोएडा बसाने का मास्टर प्लान है। यूपी के गौतम बुद्ध नगर के दादरी और बुलंदशहर गांव की जमीन पर नया शहर बताया जाएगा। 

जल्द मिलेगी मंजूरी 

अगले दो-तीन महीना में इस प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने की संभावना है। लोकसभा चुनाव के आचार संहिता हटते ही नोएडा प्राधिकरण इससे प्लान की मंजूरी के लिए कार्रवाई तेज कर देगा। नोएडा प्राधिकरण ने तो 5 महीने पहले इस प्लान की मंजूरी के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा था। इस नए नोएडा के लिए प्राधिकरण में दिसंबर 2023 में हुई बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी दी गई थी।

यह दादरी-नोएडा-गाजियाबाद को जोड़ने वाले विशेष निवेश क्षेत्र (डीएनजीआईआर) के नाम से सरकारी रिकॉर्ड में नामित है। नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों ने कहा कि लगभग 20 हजार हेक्टेयर में नया नोएडा बनाया जाएगा।

अधिकारियों ने कहा कि नया नोएडा खासतौर से औद्योगिक क्षेत्र को विकसित करेगा। यही कारण है कि यहां औद्योगिक क्षेत्र का सबसे बड़ा क्षेत्र 41% है। अधिकारियों ने बताया कि 41 प्रतिशत औद्योगिक संपत्ति, 11.5 प्रतिशत आवासीय, 17 प्रतिशत हरियाली और रिएक्शनल, 15.5 प्रतिशत में सड़क, 9 प्रतिशत संस्थागत और 4.5 प्रतिशत स्थान व्यावसायिक संपत्ति के लिए आरक्षित हैं। नए नोएडा में कर्मचारियों को भी आवास मिलेगा।

लगभग 3.5 लाख आबादी माइग्रेंट

इस शहर में लगभग छह लाख लोग रहते हैं, जिनमें से लगभग 3.5 लाख माइग्रेंट हैं। जिनके लिए एलआईजी, एमआईजी, एचआईजी और ईडब्ल्यूएस यूनिट बनाई जाएंगी। इसके अलावा, दो हजार हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में आवासीय क्षेत्र होगा। यह शिक्षा की नगरी होगी और औद्योगिक नगरी भी होगी। शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त संख्या में उच्च शिक्षा कॉलेज खोले जाएंगे।

पांच चरणों में होगी विकसित 

अधिकारियों ने कहा कि नया नोएडा पांच चरणों में बनाया जाएगा। योजना का पहला चरण 2024 में 10 प्रतिशत जमीन अधिग्रहण से शुरू होगा, जो 2028 तक 537.09 हेक्टेयर जमीन पर तैयार हो जाएगा। इसी तरह, दूसरा चरण 2028 में शुरू होगा, तीसरा चरण 2032 में शुरू होगा, चौथा चरण 2036 में शुरू होगा, और पांचवा चरण 2041 से शुरू होकर 2047 तक पूरा होना चाहिए। कनेक्टिविटी के लिए जेवर एयरपोर्ट को रेलवे से जोड़ने की भी योजना है। ऐसा ही न्यू नोएडा के लिए भी हुआ है, जहां पानी की आपूर्ति भी शामिल है।

नोएडा शहर का 95 फीसदी विकास 

95 प्रतिशत से अधिक नोएडा शहर विकसित हो चुका है। नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे के आसपास कुछ नए क्षेत्र विकसित किए जाएंगे। शहर को बढ़ाने के लिए अब जमीन नहीं बची है। सीएजी की ऑडिट रिपोर्ट ही नोएडा में 45 लाख 26 हजार 464 वर्ग मीटर जमीन पर अतिक्रमण की सूचना देती है। ऐसे में, औद्योगिक क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए नया नोएडा बनाया गया।
 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like