home page

7th Pay Commission DA Hike: DA Hike : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द ही 4% बढ़ेगा महंगाई भत्ता

7th Pay Commission DA Hike: केंद्रीय कर्मचारियों को जल्द ही खुशखबरी मिलने वाली है। अभी महंगाई भत्ता 50 प्रतिशत पर है। लेकिन अनुमान लगाया जा रहा है, कि जुलाई के बाद बढ़ोतरी तय हो जाएगी। मौजूदा महंगाई को देखते हुए दावा किया जा रहा है, कि भत्ते में चार प्रतिशत बढ़ोतरी होगी।

 | 
7th Pay Commission DA Hike: DA Hike : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द ही 4% बढ़ेगा महंगाई भत्ता

7th Pay Commission DA Hike: केंद्रीय कर्मचारियों को आने वाले महीने में खुशखबरी मिलने वाली है। कर्मचारी और पेंशन धारकों को महंगाई भत्ते पर जल्द राहत मिलने वाली है। बताया जा रहा है कि जुलाई 2024 में अगला बदलाव होने वाला है। एक्सपर्ट्स के अनुसार इसमें 4% बढ़ोतरी का अनुमान लगाया जा रहा है। यह महंगाई भत्ता जुलाई 2024 तक लागू होगा। लेकिन इसकी फाइनल में मंजूरी सितंबर तक मिल सकती है।

महंगाई भत्ते का स्कोर तय करने वाले AICPI इंडेक्स के नंबर जनवरी से जून 2024 के बीच जारी होंगे। अभी तक 2024 जनवरी का आंकड़ा सामने आया है। इन्हीं नंबर के आधार पर तय किया जाएगा कि केंद्रीय कर्मचारियों का भत्ता कितना बढ़ेगा। 50% महंगाई भत्ता बढ़ने पर शून्य होने वाली महंगाई भत्ते की कैलकुलेशन बदल सकती है। यह कैलकुलेशन जीरो से शुरू होकर जितना उछाल लेगी करीबन तीन से चार फ़ीसदी के आगे काउंट होगी।

Aicpi से तय होगा महंगाई भत्ता

7th pay comission के अनुसार महंगाई भत्ता तय करने के लिए एआईसीपीआई इंडेक्स का सहारा लिया जाता है। इसे लेबर ब्यूरो द्वारा महीने के आखिरी वर्किंग डे पर जारी किया जाता है। यह आंकड़ा 1 महीने लेट चलने के कारण जनवरी का फरवरी के अंत तक आता है। इंडेक्स के नंबर से तय होगा कि महंगाई भत्ता कितना बढ़ेगा। महंगाई भत्ते को निर्धारित करने के लिए फार्मूला दिया गया है। कई चीजों को इकट्ठा करके ब्यूरो तय करता है कि इसे कितना नंबर दिया जाएगा।

लेबर ब्यूरो ने नहीं किए आंकड़े जारी

इंडस्ट्रियल कर्मचारी के लिए हुई कैलकुलेशन के अनुसार महीने के आखिरी वर्किंग डे में एआईसीपीई का नंबर जारी होगा। इसके लिए इवेंट कैलेंडर जारी हो चुका है। इसके अनुसार वित्तीय वर्ष 29 फरवरी को जनवरी का CPI नंबर जारी किया गया था। 28 मार्च को फरवरी का की जारी होना था, लेकिन नहीं हो पाया। 30 अप्रैल को भी नहीं जारी किया गया। कहां जा रहा है कि लेबर ब्यूरो के पास फरवरी के नंबर्स नहीं होने के कारण आगे की कैलकुलेशन जारी नहीं रह पाई। बताया जा रहा है कि जुलाई से पहले सारे आंकड़े जुटाने के बाद आखिर में इसे जारी किया जाएगा। 31 जुलाई को जून महीने का नंबर जारी होगा। यह नंबर 6 महीने में बढ़ी महंगाई की तुलना में महंगाई भत्ता तय करेगा।

फरवरी का नंबर हो रहा देरी से जारी

जनवरी में CPI का नंबर 138.9 अंक था। जिससे महंगाई बता 50 .84 फ़ीसदी हो गया। एक अनुमान के मुताबिक यह है आंकड़ा 51.42 तक पहुंच सकता है। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अगला हाइक 4 फ़ीसदी तक आएगा।

कब मिलेगी कर्मचारियों को खुशखबरी

एक्सपर्ट्स के अनुसार स्थिति साफ नहीं हो पाई है, कि महंगाई भत्ते को शून्य किया जाएगा या नहीं। जुलाई में फाइनल नंबर आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा, कि इसकी कैलकुलेशन 50 से आगे चलेगी। यह सब सरकार पर निर्भर करता है कि महंगाई भत्ते की कैलकुलेशन कहां से शुरू करती है। लेकिन जिस खुशखबरी की बात हम कर रहे हैं, कि शून्य से शुरू होते ही 50 फ़ीसदी महंगाई भत्ते को बेसिक में मर्ज कर दिया जाएगा

न्यूनतम सैलरी में आएगा 9000 का उछाल

अगर महंगाई भत्ते की कैलकुलेशन जीरो से शुरू की जाती है तो केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में 9000 का उछाल आएगा। इसे न्यूनतम सैलरी पर कैलकुलेट किया जाएगा। अगर केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 18000 रुपए है तो उसे बढ़ाकर 27000 रुपए किया जाएगा। अगर ऐसे में किसी कर्मचारी की सैलरी 25000 है तो उसकी सैलरी में 12500 रुपए का इजाफा होगा।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like