home page

उत्तर प्रदेश के 3 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं को फायदा, 6.75 फीसदी दर से इस राशि पर मिलेगा ब्याज

UP News : उत्तर प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं के लिए बड़ी अपडेट सामने आई है। उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन की तरफ से बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी खुशखबरी प्रदान की गई है। उत्तर प्रदेश में बिजली का बिल कम होने वाला है.  

 | 
उत्तर प्रदेश के 3 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं को फायदा, 6.75 फीसदी दर से इस राशि पर मिलेगा ब्याज

Relief to electricity consumers : उत्तर प्रदेश के 3:30 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के फैसले से बड़ी खुशखबरी मिली है। यूपी के बिजली वोटो को अब जमा सिक्योरिटी पर ब्याज मिलेगा। पावर कारपोरेशन के इस फैसले के बाद अब सिक्योरिटी राशि पर वर्ष 2023-24 के लिए विद्युत उपभोक्ताओं को अब 6.75 % ब्याज दिया जाएगा। बता दे की जितना ब्याज बिजली उपभोक्ताओं का बनेगा वो उनके बिजली बिल में जमा कर दिया जाएगा। यूपी में इस बार मई और जून का जो बिल बनेगा वो बिल बिजली कंपनियां ब्याज की जो राशि बनेगी उस को समायोजित करके जारी करेगी। यूपी पावर कारपोरेशन विद्युत अधिनियम-2003 के तहत उपभोक्ताओं हर साल के जमा सिक्योरिटी पर ब्याज देने का फैसला किया हैं। 

सिक्योरिटी राशि के तहत 4500 करोड़ की राशि जमा 

यूपी में बिजली उपभोक्ताओं की सिक्योरिटी राशि के माध्यम से बिजली कंपनियों के पास 4500 करोड़ रुपये हैं। बिजली कंपनियों के पास जमा राशि पर लगभग 303 करोड़ रुपये ब्याज बन रहा है। इस जमा ब्याज राशि को बिजली कंपनियों अब उपभोक्ताओं को को देंगी। पावर कारपोरेशन के प्रबंध निदेशक पंकज कुमार व निदेशक कामर्शियल एके श्रीवास्तव का उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष की तरफ से इस फैसले के लिए आभार व्यक्त किया गया है। पावर कारपोरेशन की तरफ से बिजली उपभोक्ताओं को कहा गया हैं की आने वाले इस बिल में वो खुद चेक कर ले। अगर आपके बिल में धनराशि नया आई हो तो परिषद में जा कर संपर्क करें।  बिजली उपभोक्ताओं की हर परेशानी परिषद दूर करेगा। 

अवधेश वर्मा के मुताबिक वर्ष 2023-24 में बिजली उपभोक्ताओं को उनकी जमा सिक्योरिटी पर एक अप्रैल 2024 से 6.75 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अधिसूचित से उपभोक्ताओं को 6.75 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा। प्रदेश के विद्युत उपभोक्ताओं को इस महीने के अंतिम सप्ताह से उनके बिजली बिल में ब्याज का समायोजन दिखने लगेगा, निदेशक कामर्शियल ने यह जानकारी सांझा की हैं। 

इस प्रकार उदाहरण से समझे 

अगर किसी उपभोक्ता के पास एक किलोवाट का कनेक्शन है तो सिक्योरिटी के तौर पर बिजली कंपनियों के पास 300 रुपये जमा हैं। इस जमा सिक्योरिटी से बिजली  उपभोक्ता को लगभग 20 रुपये 25 पैसा ब्याज का बनेगा। उपभोक्ता के आने वाले इस बिल में जमा सिक्योरिटी का लाभ मिलेगा। जितना ज्यादा कनेक्शन का भार होगा उतना ही अधिक हिसाब से धनराशि में इजाफा होगा। 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like