home page

उत्तर प्रदेश में यहां 2400 करोड़ से बिछेगी नई रेल लाइन, 58 गांवों से गुजरेगा ट्रैक

UP News : उत्तर प्रदेश के नोएडा में बना रहे इंटरनेशनल एयरपोर्ट से आसपास के इलाकों की किस्मत चमकने वाली है। नोएडा के इस इंटरनेशनल एयरपोर्ट को नई दिल्ली मथुरा रेलवे लाइन और नई दिल्ली हावड़ा रेल लाइन से जोड़ने का बड़ा प्लान है। इन रेल लाइनों को कनेक्ट करने के लिए 2400 करोड़ की लागत से नई रेल लाइन बिछाई जाएगी। इस महत्वाकांक्षी योजना से 58 गांवों की लौटरी निकलने वाली हैं। 

 | 
उत्तर प्रदेश में यहां 2400 करोड़ से बिछेगी नई रेल लाइन, 58 गांवों से गुजरेगा ट्रैक

Uttar Pradesh News : इन रेलवे लाइनों को जोड़ने के लिए जो प्रस्तावित रेलवे ट्रैक निकलेगा वो NCR के 58 गांव को चीरता हुआ निकलेगा। इस रेलवे लाइन के लिए 2400 करोड़ रुपए की लागत आएगी। इस महत्वपूर्ण योजना को जमीनी रूप देने के लिए प्लान तैयार कर लिया गया है। यह रेल लाइन 45 जगह पर सड़क के ऊपर से गुजरेगी। इस रेल लाइन को खास तकनीकी के तौर पर बनाया जाएगा। इस महत्वाकांक्षी योजना से आसपास के इलाकों में यातायात व आवागमन आधुनिक होगा। इस रेल लाइन के बीच आने के बाद लोगों का यात्रा का समय और पैसा दोनों बचेगा। 

61 किलोमीटर का होगा ट्रैक 

नोएडा के जेवर एयरपोर्ट के पास फ्रेट टर्मिनल बनाने के लिए इस परियोजना पर कार्यशुरू हो चुका है। इस अहम 61 किलोमीटर की रेलवे लाइन को यमुना एक्सप्रेस के साथ-साथ कुछ महत्वपूर्ण सड़कों से भी गुजरा जाएगा। जानकारी के लिए बता दें कि इस रेल लाइन को ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से दूर रखा जाएगा। 

रेलवे मंत्रालय ने जानकारी सांझा करते हुए बताया की दादरी के पास मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब को प्रस्तावित रेल लाइन रुंधी से चोला से कनेक्ट किया जाएगा। इस ट्रैक से मुंबई और चेन्नई से कोलकाता जाने वाली ज्यादातर तेज रफ्तार वाली ट्रेनें गुजरती हैं। यही कारण है कि इस ट्रैक को केवल सेमी हाईस्पीड ट्रेनों (वंदे भारत) के लिए बनाया जाएगा।

रेल मंत्रालय ने रुंधी से चोला के बीच रेलवे लाइन का प्राथमिक सर्वे पूरा कर लिया है। इसमें नोएडा एयरपोर्ट बनाने वाली कंपनी से अनुमति मिलने पर इस परियोजना पर काम शुरू होगा। रेलवे लाइन पूर्ववर्ती सड़कों को 45 स्थानों पर पार करेगी। इसके अलावा, रुंधी से दो और चोला से तीन रेल ओवर ब्रिज भी बनाए जाएंगे।

जेवर खादर और जहांगीरपुर में बनेगा 900 मीटर का स्टेशन

रेलवे मंत्रालय की DPR के मुताबिक, बीघेपुर में रुंधी और चोला के बीच प्रस्तावित पांच स्टेशन में सबसे छोटा होगा। यह सिर्फ 300 मीटर का होगा। जेवर खादर और जहांगीरपुर सबसे लंबे स्टेशन होंगे। इनका व्यास 900 मीटर होगा। जेवर एयरपोर्ट स्टेशन 500 मीटर का होगा और चारघाट 600 मीटर के होंगे।

कितना होगा रेल ट्रैक के निर्माण खर्च

 

व्यय का विवरण  लागत (करोड़ रुपये में)
रेल ट्रैक के निर्माण पर होने वाला खर्च 1000
रेल लाइन के क्रॉसिंग पर लागत 700
यमुना नदी पर बनने वाले पुल का खर्च  350
यमुना एक्सप्रेसवे पर प्रस्तावित फ्लाईओवर की लागत 15
45 सड़कों पर बनने वाली क्रॉसिंग की लागत 315
बिजली उपकेंद्र की लागत  20

रेलवे मंत्रालय की DPR के मुताबिक नई रेल लाइन पर 2400 करोड़ रुपये खर्च होंगे। पूरी तरह से समझौता होने के बाद अंतिम योजना बनाई जाएगी। प्राथमिक सर्वे रिपोर्ट फिलहाल तैयार है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like