home page

NCR में बनेंगे 2 नए एक्सप्रेसवे और 47 किलोमीटर बिछेगी यहां नई रेलवे लाइन

नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट को रैपिड रेल से हाईस्पीड कनेक्टिविटी मिलेगी। आरआरटीएस के गाजियाबाद स्टेशन से जोड़ने के लिए फिजिबिलिटी रिपोर्ट को मंजूरी मिल चुकी है।

 | 
2 new expressways will be built in NCR and 47 kilometers of new railway line will be laid here.

Saral Kisan : नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट को रैपिड रेल से हाईस्पीड कनेक्टिविटी मिलेगी। आरआरटीएस के गाजियाबाद स्टेशन से जोड़ने के लिए फिजिबिलिटी रिपोर्ट को मंजूरी मिल चुकी है। अब एयरपोर्ट को रेलवे लाइन से कनेक्टिविटी देने के लिए 47 किमी. लंबी रेलवे लाइन बिछाने के प्रस्ताव को रेलवे मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है। इसके लिए डीपीआर बनाने का काम शुरू कर दिया है। इस प्रस्ताव के तहत 47 किमी. लंबी नई रेलवे लाइन बिछाई जाएगी। इसमें करीब 20 किमी. लंबी रेलवे लाइन चोला रेलवे स्टेशन से नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट तक बिछेगी और 27 किमी. लंबा ट्रैक एयरपोर्ट से पलवल तक बिछाया जाएगा। बताया जा रहा है कि इस रेल लाइन से आयात निर्यात को रफ्तार मिलेगी।

बता दें कि अक्टूबर 2024 में एयरपोर्ट तैयार हो जाएगा। जेवर में निर्माणाधीन एयरपोर्ट के प्रॉजेक्ट को निर्धारित डेडलाइन पर तैयार करने के लिए 24 घंटे काम चल रहा है। इसी के साथ ही एयरपोर्ट तक पहुंचने के लिए कनेक्टिविटी के संसाधनों को लेकर भी तैयारी चल रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए करीब तीन महीने पहले प्रदेश के चीफ सेक्रेटरी ने रेल मंत्रालय को शासन की ओर से 47 किमी. लंबी नई रेलवे लाइन बनाने के लिए प्रस्ताव भेजा था।

इसमें बताया गया था इस रेलवे लाइन का बनाया जाना एयरपोर्ट की कनेक्टिविटी के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इस 47 किमी. की रेलवे लाइन बनने से दिल्ली-कोलकाता रेलमार्ग के चोला रेलवे स्टेशन से और दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग में पलवल स्टेशन तक वाया जेवर एयरपोर्ट होते हुए कॉरिडोर बन जाएगा। इस कॉरिडोर में जेवर में बड़ा रेलवे स्टेशन बनाया जाए। नए रेलमार्ग के बनने से यहां के निवासियों के दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, हरियाणा, राजस्थान समेत तमाम राज्यों तक पहुंच आसान हो जाएगी।

दिल्ली-कोलकाता रेलमार्ग के बराबर से डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर भी है। चोला रेलवे स्टेशन के पास यह नए रेलमार्ग से जुड़ जाएगा। न्यू दादरी में ईस्टर्न और वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर मिल रहे हैं। इसका फायदा नोएडा एयरपोर्ट और उद्योगों को मिलेगा। नए ट्रैक पर वंदे भारत जैसी फास्ट ट्रेन चलाने का प्रस्ताव है।

चोला से एयरपोर्ट तक बिछेगी 20 किमी लंबी रेलवे लाइन-

दिल्ली हावड़ा रेल लाइन पर गाज़ियाबाद, दादरी, बोड़ाकी और दनकौर के आगे चोला स्टेशन है। यहीं से 20 किमी लंबी रेल लाइन नोएडा एयरपोर्ट तक बिछाई जाएगी। इससे गाजियाबाद और आनंद विहार से एयरपोर्ट की कनेक्टिविटी हो जाएगी। नोएडा एयरपोर्ट पर कार्गो का बड़ा हब बनेगा। इस रेल लाइन में माल ढुलाई भी आसान हो जाएगी।

एयरपोर्ट से पलवल तक 27 किमी. लंबी रेलवे लाइन-

नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट के पास बड़ा रेलवे स्टेशन बनाने की प्लानिंग है। यहां से सीधे पलपल के लिए 27 किमी. की नई रेलवे लाइन बिछाई जाएगी। इस तरह दो अलग-अलग रेलवे लाइन बनाने पर कुल 47.6 किमी. लंबी नई रेलवे लाइन बिछाई जाएगी। इससे हरियाणा के यात्रियों के साथ ही वहां के उद्योगों को बड़ा फायदा होगा।

चोला से एयरपोर्ट दो एक्सप्रेस भी बनेंगे-

चोला रेलवे स्टेशन से जेवर में बन रहे एयरपोर्ट तक 75-75 मीटर चौड़े दो एक्सप्रेसवे भी बनाए जाने हैं। इनका प्रस्ताव पहले ही पास हो चुका है। इनमें एक एक्सप्रेसवे 20 किमी. लंबा और दूसरा 16 किमी. लंबा होगा। दोनों एक्सप्रेसवे के बीच में करीब ढाई किमी.की दूसरी होगी और इस ढाई किमी. की दूरी के बीच में ही रेलवे लाइन बिछेगी और बड़े-बड़े लॉजिस्टिक हब व वेयरहाउस स्थापित कराए जाएंगे। यमुना अथॉरिटी सीईओ अरुणवीर सिंह ने बताया कि शासन से भेजे गए इस नई रेलवे लाइन के प्रस्ताव को अब रेल मंत्रालय ने मंजूर कर लिया है। इसके लिए डीपीआर बनाने का काम चल रहा है। उम्मीद की जा रही है कि जनवरी तक इसके लिए डीपीआर बनकर तैयार हो जाएगी।

ये पढे : उत्तर प्रदेश के इस जिले की लगी लॉटरी, सीएम योगी ने की बायोगैस प्लांट, सड़कें समेत 44 बड़ी घोषणाएं, देखें लिस्ट

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like