home page

राजस्थान के चार जिलों में मिलावटी मसालों पर बड़ी कार्यवाही, 12 हजार किलो माल जब्त

Rajasthan MDH Everest Garam Masala : राजस्थान के खाद्य और स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मसालों का गड़बड़ घोटाला उजागर किया हैं। मसाले में मिलावट करके आम जनता की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है। कई बड़ी कंपनियों के मसाले भी सीज किए गए हैं।

 | 
राजस्थान के चार जिलों में मिलावटी मसालों पर बड़ी कार्यवाही, 12 हजार किलो माल जब्त 

Rajastha News: मसाले में मिलावट करके आम जनता की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है। राजस्थान के खाद्य और स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए राजस्थान के चार जिलों से करीबन 12000 किलो से अधिक मसाला चीज किया है। यहां पर टेलकम पाउडर की मदद से जीरा बनाया जा रहा था। कई बड़ी कंपनियों के मसाले भी सीज किए गए हैं। जिनमें पेस्टिसाइड की मात्रा अधिक पाई गई है। 

ब्रांडेड मसालों बड़ी कार्रवाई

राजस्थान के बाड़मेर अलवर सहित चार जिलों में कार्रवाई करते हुए ब्रांडेड मसाले सीज किया गया है। खाद्य और स्वास्थ्य विभाग ने कार्रवाई करते हुए बाड़मेर से करीबन 30 लाख रुपए के एवरेस्ट मसाले और एमडीएच मसाले, ब्यावर जिले से करीबन 420 किलो जीरा पाउडर, अलवर से 940 पैकेट रायता मसाला विभाग ने अपने काबू में लिया। इसके साथ ही पाली जिले में 7420 किलो मसालों कोशिश किया गया है। 

बड़ी कंपनियों के लिए सैंपल 

स्वास्थ्य विभाग ने मसाला बनाने वाली बड़ी कंपनियों के सैंपल भी लिए हैं। इनमें से कई मसले असुरक्षित पाए गए हैं। दिनेश स्वास्थ्य विभाग ने अपने काबू में ले लिया है। इसी के आधार पर 12000 किलोग्राम से अधिक के मसालें चीज किए गए हैं। 

1 महीने से चलाया जा रहा अभियान 

फूड इंस्पेक्टर सुरेश शर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि राजस्थान की ओर से शुद्ध आहार मिलावट पर वार अभियान चलाया जा रहा है। मसाले की सोता जांच के लिए 8 मई से अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के दौरान देश की एवरेस्ट, एमडीएफ सहित बड़ी कंपनियों के सैंपल फेल हुए है। फूड इंस्पेक्टर ने बताया कि एवरेस्ट मसाले कम से कम 20 लाख रुपए और एमडीएस मसाले 10 लाख रुपए से अधिक का माल जब्त किया गया है। 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like