home page

Delhi में बनेगा 1 और नया 6 लेन का एक्सप्रेसवे, जमीन अधिग्रहण आदेश जारी, जाम मुक्ति के लिए नया प्रोजेक्ट लॉन्च

Delhi New Highway :भारत की राजधानी दिल्ली को मिली एक्सप्रेस वे की सौगात, जल्दी शुरू होगी एक्सप्रेसवे की कार्य प्रणाली, जमीन अधिग्रहण के निर्देश हुए जारी।

 | 
Delhi में बनेगा 1 और नया 6 लेन का एक्सप्रेसवे, जमीन अधिग्रहण आदेश जारी, जाम मुक्ति के लिए नया प्रोजेक्ट लॉन्च

Saral Kisan, Delhi New Highway : भारत देश की राजधानी होने के कारण अधिक वाहनों के आवागमन होने की वजह से अक्सर  दिल्ली में हर जगह जाम लग जाता है। इस जाम से निजात पाने के लिए सरकार एक के बाद एक प्रोजेक्ट तैयार कर रही है। इस वर्ष द्वारका एक्सप्रेसवे के चालू होने पर दिल्ली से गुड़गांव का सफल हो गया आसान, घंटे भर के सफर में लगते हैं मात्र 20 मिनट। इसी बीच दिल्ली सरकार ने दिल्ली फरीदाबाद बॉर्डर पर लगने वाले जाम को देखते हुए एक और प्रोजेक्ट लॉन्च करने जा रही है

राजधानी दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार ने दक्षिण पश्चिम दिल्ली के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट को भूमि अधिग्रहण करने के निर्देश दे दिए हैं, दिल्ली से फरीदाबाद और गुड़गांव रूट को इस वर्ष के अंत तक पूरा करने का लक्ष्य है। तकरीबन 9 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेसवे को 6 लाइन किया जाएगा, एक्सप्रेसवे के 6 लाइन होने से वाहनों की आवाजाही तेज हो जाएगी जिस कारण जाम से छुटकारा मिलेगा। अभी इस हाइवे के दो लेने की होने की वजह से रोजाना घंटे तक जाम लगा रहता है।

किन-किन जगहों से होकर गुजरेगा एक्सप्रेस वे

दिल्ली एनसीआर के नजफगढ़ रोड पर बनने वाला यह एक्सप्रेसवे ग्वाल पहाड़ी गांव से शुरू होकर अंधेरी मोड तक जाएगा। गुरुग्राम-फरीदाबाद रूट पर बनने वाले इस 6 लेन के एक्‍सप्रेसवे से आवाजाही आसान हो जाएगी. अभी यह रूट 2 लेन का है, जिसकी चौड़ाई 7.5 से 10 मीटर है. यही कारण है कि इस रूट पर प्रतिदिन घंटों का जाम लगता है, खासकर दिल्‍ली की तरफ.

लाखों वाहनों को होगा फायदा

तकरीबन 9 किलोमीटर लंबे इस एक्‍सप्रेसवे के बन जाने से रोजाना लाखों वाहन चालकों को फायदा होगा. अभी ग्‍वाल पहाड़ी-अंधेरिया मोड़ रोड से रोजाना करीब 1 लाख वाहन दिल्‍ली में प्रवेश करते हैं और लगभग इतने ही लोग गुरुग्राम की तरफ भी जाते हैं. इतने हैवी ट्रैफिक की वजह से दिल्‍ली बॉर्डर पर रोजाना लंबा जाम लग जाता है. नया एक्‍सप्रेसवे बन जाने से इन 2 लाख वाहन चालकों का समय बचेगा.

किस तरह का होगा नया एक्‍सप्रेसवे

यह नया रूट  लगभग 30 मीटर चौड़ा बनाया जाएगा, जो 6 लेन का होगा. हर तरफ 3 लेन की सड़क होगी और इसकी कुल लंबाई करीब 9 किलोमीटर रहेगी. एक्‍सप्रेसवे के लिए 25 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा, जिसके लिए शहरी विकास फंड से दिल्‍ली के लोक निर्माण विभाग को 50 करोड़ का फंड जारी भी कर दिया गया है.

एक्‍सप्रेसवे से किसे होंगे फायदे

नया एक्‍सप्रेसवे तैयार होने के बाद दिल्‍ली-गुरुग्राम के बीच ट्रैफिक और आसान हो जाएगा. इसका फायदा रोजाना सफर करने वालों को तो मिलेगा ही, रोजमर्रा की जरूरत के सामानों की ढुलाई भी आसान हो जाएगी. इससे कारोबार को भी बढ़ावा मिलेगा. चौड़ी सड़क और वनवे रूट होने से दुर्घटनाओं को रोकने में भी आसानी होगी.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like