home page

डिमांड मजबूत होने और पैदावार घटने से सरसों के भाव में आ रही तेजी, 1000 रुपए आया उछाल

पिछले साल सरसों बुवाई का रकबा घटने और पैदावार कमजोर होने के कारण इन दिनों मंडियो में सरसों की कीमतों में उछाल आ रहा है.
 | 
 डिमांड मजबूत होने और पैदावार घटने से सरसों के भाव में आ रही तेजी, 1000 रुपए आया उछाल

Merta City : मेड़ता मंडी में रायडा ( सरसों ) के भाव में पिछले 10 दिनों से लगातार तेजी आ रही है. लेकिन अब सीजन के गुजर जाने के बाद कुछ ही किसानों के पास माल बचा हुआ है. हालांकि तेजी आने के बाद मंडी में आवक में जरूर थोड़ा उछाल देखने को मिला है. 10 दिनों के अंतराल में सरसों के भाव 1000 रुपए प्रति क्विंटल तक बढ़ गए हैं.

8 मई को सरसों 4600 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास बिक रही थी. वह अब 5500 से लेकर 5600 रुपए प्रति क्विंटल तक जा पहुंची है. सरसों में अगर इस प्रकार की तेजी आती रही तो 6000 रुपए के आसपास मंडियो में बिक सकती है. क्योंकि सरसों की बाजार में मांग लगातार बढ़ रही है. और पिछले साल के मुकाबले इस साल सरसों का उत्पादन कम हुआ. 

सरसों की 2-3 ढ़ेरी 6000 रुपए

मेड़ता मंडी से व्यापारियों से मिली जानकारी के अनुसार, मेड़ता मंडी में बीते दिन शनिवार को सरसों के भाव में 100 रुपए का उछाल रहा. मेड़ता मंडी में इन दिनों सरसों का औसत भाव 5300 से 5600 रुपए प्रति क्विंटल तक जा रहा है. मंडी में रोजाना 40 फैट की सरसों की दो से तीन ढ़ेरी 6000 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास बिकी है.

पीली सरसों भी तेज

दूसरी ओर पीली सरसों के भाव में भी तेजी का सिलसिला बना हुआ है. ए क्वालिटी की पीली सरसों 6000 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास बिक रही है. सरसों में भाव बढ़ने का कारण पिछले साल बुवाई का रकबा आधा रहा और उत्पादन भी कमजोर रहा. मजबूत डिमांड के कारण आने वाले 10 से 15 दिनों में सरसों के भाव में ज्यादा तेजी देखने को मिल सकती है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like